कौन बनेगा मि. स्वच्छ कुमार और मिसेज साफ-सुथरी?

0
कौन बनेगा मि. स्वच्छ कुमार और मिसेज साफ-सुथरी?

सरकार ने स्वच्छ भारत के अभियान के चलते एक नई पहल कर दी है जिसके अंतगर्त नॉर्थ एमसीडी ने लोगो को मौका दिया है, एमसीडी ने नॉर्थ दिल्ली में सफाई व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए कुछ टाइटल बनाए हैं, जिससे लोगों को नवाजा जाएगा। कॉलोनियों और वॉर्ड में सफाई व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए जिन लोगों ने सराहनीय काम किए हैं, उन्हें एमसीडी मिस्टर स्वच्छ कुमार और जिन महिलाओं ने बेहतर काम किया है, उन्हें मिसेज साफ-सुथरी टाइटल से नवाजेगा।
नॉर्थ एमसीडी के एक सीनियर अफसर ने कहा की अभियान के तहत नार्थ के सभी जोन को कवर करने का प्रयास किया गया है मगर इस पहल का परिणाम तभी नजर आएगा और सफल होगा जब लोग आगे बढ़ कर इसमें हिस्सा ले और बाकि लोगो को भी सफाई के लिए प्रेरित करे और ये कदम लोगों को सफाई कार्यों में योगदान के लिए प्रेरित करने के लिएही किया हैं। अफसरों का कहना है कि अगर कोई महिला अपने कॉलोनी या वॉर्ड में पर्यावरण को बेहतर बनाने के लिए पॉलिथीन यूज न करने के लिए लोगों को प्रेरित करती है या इसके लिए कोई उल्लेखनीय काम करती है, तो उस महिला को सराहनीय कार्यों के लिए मिसेज सफाई पंसद टाइटल से नवाजा जाएगा।
इसी तरह से कोई व्यक्ति अपने कॉलोनी या वॉर्ड में लोगों को खुले में शौच न करने से रोकने या टॉयलेट के यूज के लिए ही सराहनीय काम करता है, तो उसे मिस्टर स्वच्छ कुमार के टाइटल से नवाजा जाएगा। जो महिलाएं कूड़ा कूड़ेदान में ही फेंकती हैं और दूसरी महिलाओं को भी ऐसा करने क लिए प्रेरित करती हैं उन्हें एमसीडी मिसेज साफ-सुथरी टाइटल से नवाजेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

12 + 10 =