MP के चार खूंखार मोस्ट वांटेड बदमाशों को जयपुर पुलिस ने पकड़ा, SUV से हो रहे थे फरार

0
143

MP के चार खूंखार मोस्ट वांटेड बदमाशों को जयपुर पुलिस ने पकड़ा, SUV से हो रहे थे फरार

जयपुर: जयपुर कमिश्नरेट के करधनी थाना प्रभारी बनवारी लाल मीणा ने जान की बाजी लगाते हुए मध्यप्रदेश के चार खूंखार बदमाशों को दबोच लिया। डीएसटी टीम के हैड कॉन्स्टेबल नरेंद्र सिंह को सूचना मिली कि मध्य प्रदेश के 4 मोस्ट वांटेड अपराधी बोलेरो नम्बर RJ 22 UA 6829 में सवार होकर जयपुर में घूम रहे हैं। इन बदमाशों के पास हथियार होने और जयपुर में लूट या डकैती की बड़ी वारदात को अंजाम देने की सूचना थी। हेड कांस्टेबल नरेंद्र सिंह द्वारा बताए गए रास्तों पर पुलिस के द्वारा कड़ी नाकेबंदी की गई। इसी दौरान करधनी में पुलिस और बदमाशों का आमना सामना हो गया।

पुलिस टीम को देखते ही बदमाशों ने भगाई गाड़ी, पीछा करके दबोचा
करधनी थाना प्रभारी बनवारी लाल मीणा ने गोविंदम टावर के बाहर नाकाबंदी लगा रखी थी। कुछ ही देर में कालवाड़ रोड की तरफ से बोलेरो गाड़ी RJ-22 UA 6829 आई। नाकाबंदी देखते ही बदमाशों ने बोलेरो को तेज रफ्तार से भगा दिया। पुलिस ने तुरंत पीछा करते हुए नौ दुकान मोड़ के पास बोलोरो गाड़ी को घेर लिया। इस दौरान डीएसपी प्रभारी पुलिस इंस्पेक्टर गुरु भूपेंद्र सिंह और उनकी टीम भी पहुंच गई। चारों तरफ से पुलिस से गिरने के बावजूद भी बदमाशों ने बोलेरो के गेट नहीं खोले।

कांच तोड़कर गेट खोलने की कोशिश की तो बदमाशों ने तानी पिस्तौल
इस्पेक्टर बनवारी लाल मीणा और गुरु भूपेंद्र सिंह की पुलिस टीम द्वारा बदमाशों को चारों तरफ से घेर लिया गया था। इसके बावजूद भी बदमाशों ने अपने आप को गाड़ी में बंद करके रखा। चूंकि बदमाशों के पास हथियार थे। इसलिए पुलिस पूरी तरह संभल कर उनको पकड़ने की कोशिश कर रही थी। इस्पेक्टर बनवारी लाल मीणा ने गाड़ी के कांच तोड़कर बदमाशों को पकड़ने की कोशिश की तो एक बदमाश ने पिस्तौल तान दी। पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए पिस्तौल छीनी और अन्य तीनों बदमाशों को भी काबू में किया।

बदमाशों को दबोचने के दौरान लोगों ने बनाया लाइव वीडियो
बदमाशों की गाड़ी को घेर कर उन्हें दबोचने के दौरान आसपास काफी भीड़ एकत्रित हो गई थी। स्थानीय लोग समझ ही नहीं पाए कि आखिर हो क्या रहा है। एक दुकान के बाहर खड़े व्यक्ति ने इस कार्रवाई का मोबाइल से वीडियो बनाया। बाद में पता चला कि पुलिस ने मध्यप्रदेश के खूंखार बदमाशों को गिरफ्तार किया है। इस वीडियो में पुलिस बहादुरी दिखाते हुए बदमाशों को दबोचती हुई नजर आ रही है।

बदमाशों के कब्जे से हथियार और कारतूस मिले
गिरफ्तार किए गए चार बदमाशों में से तीन बदमाश पंकज शर्मा, संतोष सिंह चौहान और भूपेश यादव मध्य प्रदेश के मुरैना जिले के रहने वाले हैं। जबकि एक बदमाश तरुण गौड़ पाली जिले का रहने वाला है। पुलिस ने इनके कब्जे से दो लोडेड पिस्टल (32 बोर), 13 जिन्दा कारतूस, एक एक्स्ट्रा मैग्जीन, दो एयर गन, दो नकब, चार मास्टर चाबी और एक बोलरो कार बरामद की।

Copy

6 साल पहले जयपुर में डाली थी डकैती, हाल ही में छूटे जेल से
कुख्यात बदमाश पंकज शर्मा वर्ष 2016 में जयपुर के झोटवाड़ा में शुभम ज्वेलर्स पर डकैती डाल चुका है। इस प्रकरण में वह 26 महीने तक जेल में रहा। करीब 1 महीने पहले ही वह जमानत पर छूटा था। पंकज शर्मा ने धौलपुर में भी लूट की वारदात को अंजाम दिया था। अहमदाबाद में भी 25 लाख रुपए की लूट की थी। इसके खिलाफ संगीन धाराओं के कुल 19 मुकदमे दर्ज है। आरोपी भूपेश यादव के खिलाफ गंभीर धाराओं में 10 प्रकरण दर्ज है। भूपेश डी करीब डेढ़ महीने पहले जेल से छूट कर बाहर आया था। आरोपी संतोष सिंह चौहान के खिलाफ 12 मुकदमे दर्ज है।

किसी घर, दुकान या शो रूम को लूटने आये थे जयपुर

पुलिस पूछताछ में बदमाशों ने बताया कि जेल से छूटने के बाद इन्होंने फिर से जयपुर में बड़ी वारदात को अंजाम देने का प्लान बनाया। इसी वजह से वे हथियार लेकर जयपुर आए थे। एक-दो दिन में किसी मकान, दुकान या शोरूम को निशाना बनाने वाले थे। वारदात से पहले ही सूचना मिलने पर ये बदमाश पुलिस के हत्थे चढ़ गए।
(रिपोर्ट:- रामस्वरूप लामरोड़, जयपुर)

राजस्थान की और समाचार देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Rajasthan News