कठुआ गैंगरपे से आहत मेनका गाँधी पॉक्सो एक्ट में नए प्रावधान की मांग करेंगी, यहाँ पढ़ें पूरी जानकारी

0

महिला और बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने कठुआ गैंगरपे केस के बाद एक नया प्रस्ताव रखने की बात कही है. कठुआ रेप केस के बाद देशभर में आरोपियों को कठोर सजा देने की मांग हो रही है. देशभर में लोग जगह-जगह प्रदर्शन कर रहे हैं. इसी बीच मेनका गाँधी ने कहा है कि वो सरकार पॉक्सो ऐक्ट में संशोधन करने के लिए कैबिनेट की बैठक में प्रस्‍ताव लाएगी. इस संशोधन के मुताबिक, 12 साल से कम उम्र की बच्ची से रेप के मामले में मौत की सज़ा का प्रावधान रखा जाएगा. अभी तक पॉस्‍को एक्ट के सेक्शन 3,4 और 6 के मुताबिक़ रेप पर 10 से लेकर उम्र कैद की सज़ा का प्रावधान है.

मेनका गांधी ने वीडियो मैसेज के ज़रिये कहा है कि वह इस वारदात से बहुत दुखी हैं. उन्‍होंने कहा कि उनका मंत्रालय सोमवार को कैबिनेट नोट में पॉक्‍सो एक्‍ट में संशोधन की मांग करेंगे और पॉक्सो ऐक्ट में संशोधन करने का प्रस्‍ताव लाएगी. इस संशोधन के मुताबिक, 12 साल से कम उम्र की बच्ची से रेप के मामले में मौत की सज़ा का प्रावधान रखा जाएगा. उन्‍होंने कहा है कि वह कठुआ और अन्‍य बलात्‍कार की घटना से बहुत दुखी हैं जो बच्‍चों के साथ हो रही हैं.

आठ साल की बच्‍ची का 10 जनवरी को उसके गांव के पास से अगवा कर लिया गया था, उसे नशे में रखा गया, और कई दिन तक उसके साथ कई लोगों ने गैंगरेप किया, जिनमें पुलिस अधिकारी और एक किशोर भी शामिल था, और आखिरकार उसे मार दिया गया. चार्जशीट के मुताबिक, उसका सिर पत्थर से कुचले जाने से ठीक पहले पुलिस अधिकारियों में से एक ने हत्यारे से कुछ देर रुकने के लिए कहा, ताकि वह एक बार और बच्ची के साथ रेप कर सके. बलात्कारियों में से एक को उत्तर प्रदेश के मेरठ से खासतौर से बुलाया गया था, ताकि वह अपनी ‘हवस पूरी कर सके.’

वहीं उत्तर प्रदेश के उन्नाव में भी नाबालिग से रेप का मामला सामने सुर्ख़ियों में है. यहाँ सत्तासीन भाजपा का विधायक आरोपी है. पिछली साल जून में हुए इस गैंगरपे की शिकायत कल 206 दिन बाद दर्ज हुई है. पुलिस या सीबीआई अबतक आरोपी विधायक को गिरफ्तार नही कर पाएं हैं जबकि वो लगातार मीडिया को इंटरव्यू दे रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eighteen − 1 =