MCD चुनावः ‘पिछला हाउस टैक्स माफ, अगला हाफ’ के वादे से लोगों को रिझाएगी कांग्रेस!

0
82

MCD चुनावः ‘पिछला हाउस टैक्स माफ, अगला हाफ’ के वादे से लोगों को रिझाएगी कांग्रेस!

नई दिल्ली: ‘पिछला हाउस टैक्स माफ और अगला हाफ’ विजन के जरिए कांग्रेस इस एमसीडी चुनाव में वोटरों को रिझाने की तैयारी में जुटी है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, कांग्रेस एमसीडी चुनाव में हाउस टैक्स को लेकर बड़े विजन के साथ उतर रही है।

प्रदेश कांग्रेस के नेताओं का कहना है कि इस चुनाव में हाउस टैक्स एक बड़ा मुद्दा है। दोनों पार्टियां एक के बाद एक फ्री योजना की बात कर रही है। लेकिन कांग्रेस कभी इस पक्ष में नहीं रहती कि कोई भी योजना पूरी तरह से फ्री कर दी जाए। इससे संस्थान पर दबाव आता है और इसका दुरुपयोग भी होता है। इसलिए कांग्रेस ने बीच का रास्ता निकाला है, ताकि जनता को राहत भी मिले और इसका प्रेशर संस्थान पर भी नहीं आए। इसी कड़ी में कांग्रेस ने अब तक के पिछले हाउस टैक्स को माफ करने और अगला हाउस टैक्स आधा करने की योजना बनाई है।

MCD Polls: जिसे टिकट दिया वह पहुंचा ही नहीं नॉमिनेशन करने, अब शिकायत पहुंची कांग्रेस अध्यक्ष खरगे के पास
कांग्रेस का कहना है कि पार्टी हमेशा जनता की मदद के लिए तत्पर रहती है। पिछले दिनों कांग्रेस ने ‘आओ मदद का हाथ बढ़ाओ’ का अभियान भी चलाया था, जिसमें कोरोना काल में जनता को फ्री खाना देने से लेकर अन्य सुविधाएं मुहैया कराई गई थीं। इस चुनाव में कांग्रेस अपनी राजनीतिक जमीन को बेहतर करने के लिए काम कर रही है। शुक्रवार को पार्टी अपना विजन डॉक्युमेंट लॉन्च कर सकती है और उसके कुछ दिनों बाद मैनिफेस्टो लेकर आएगी।

चुनाव से पहले ही कांग्रेस को तीन सीटों का झटका
एमसीडी चुनाव से पहले ही कांग्रेस को तीन सीटों का झटका लगा है। जानकारी के अनुसार, निगम के 250 सीटों में से 3 सीटों के उम्मीदवारों के नामांकन रद्द हो गए हैं, जिसमें सबसे बड़ा नाम वॉर्ड नंबर-84, देव नगर सीट से सुशीला मदन खोरवाल का है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पूर्व पार्षद रहीं खोरवाल का नामांकन रद्द होना पार्टी के लिए बड़ा झटका है।

navbharat times -MCD के चुनावी रण में 31% निर्दलीय प्रत्याशी ठोक रहे ताल
दूसरी सीट लाजपत नगर है जहां से बाला सुब्रमण्यम को टिकट दिया गया था। बाला के बारे में बताया जा रहा है कि ये समय पर नामांकन ही नहीं जमा करा पाए, जिसकी वजह से इस सीट से कांग्रेस का अब कोई उम्मीदवार नहीं है। तीसरी सीट झड़ोदा वॉर्ड नंबर-10 का है, जहां से कांग्रेस उम्मीदवार का नामांकन रद्द हो गया है। चुनाव से पहले 250 में से 3 सीटें कांग्रेस के हाथ से जा चुकी हैं। हालांकि, पार्टी प्रमुख को इसके पीछे कहीं न कहीं साजिश लग रही है, उनका कहना है कि आखिर ऐसी गलती कैसे हो सकती है, इसलिए पार्टी ने कमिटी बनाकर इसकी जांच कराने का फैसला किया है। एक सीनियर कांग्रेस नेता की अगुवाई में इसकी जांच कराई जाएगी।

राजनीति की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – राजनीति
News