मध्य प्रदेश में मायावती ने कांग्रेस को दिया समर्थन, अब सरकार बनाने का रास्ता हुआ साफ

0

नई दिल्ली: मध्यप्रदेश और राजस्थान में कांग्रेस के लिए सरकार बनाने तय है. अब बसपा सुप्रीमो मायावती ने मध्य प्रदेश में कांग्रेस के समर्थन का ऐलान कर दिया है.

बता दें कि मायावती ने कहा कि भाजपा सत्ता में आने के लिए काफी जोड़तोड़ में लगी है. उनका यह मकसद पूरा नहों होगा. विधानसभा चुनाव के तीन राज्यों में कांग्रेस की जीत को देखते हुए बसपा ने कांग्रेस की नीतियों से सहमती ना जातते हुए भी बसपा मध्य प्रदेश में कांग्रेस का समर्थन करेगी.

राजस्थान में भी कांग्रेस को बसपा का समर्थन मिल सकता है 

ये ही नहीं अगर राजस्थान में भी कांग्रेस को बसपा का समर्थन की आवश्यकता है तो वहां भी बसपा उन्हें समर्थन देगी. मध्य प्रदेश में बसपा के दो और राजस्थान में छह विधायक चुनकर आए है.  आज मीडिया से वार्ता करते हुए बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा है कि राज्य की जनता भाजपा के कार्यों से परेशान हो गई थी इसलिए वह इस बार उनको सत्ता में आने नहीं देना चाहती थी. भारतीय जनता पार्टी को अपनी गलत नीतियों की वजह से हार का स्वाद चखना पड़ा है.

उन्होंने कहा कि जनता ने अपने दिल पर पत्थर रखकर कांग्रेस को वोट दिया है. इस दौरान उन्होंने कहा है कि इन चुनावों में कांग्रेस पार्टी को काफी फायदा मिला है. जिसका लाभ उनको आगामी लोकसभा चुनाव में  भी मिलेगा. हमरी पार्टी के उम्मीदवारों ने कांग्रेस और भाजपा से काफी संघर्ष किया है और काफी मात्रा में वोट हासिल किया है.

बसपा प्रमुख ने कहा कि बीजेपी की सरकार राज्य में न हो इस मकसद से हमने चुनाव लड़ा था, लेकिन हम इस इरादे में कामयाब नहीं हो पाए. अभी भी मध्य प्रदेश में भाजपा जोड़तोड़ में लगी हुई है, जिसे रोकने के लिए और सत्ता में न आने के लिए कांग्रेस की नीतियों से सहमति ना जताते हुए भी बसपा कांग्रेस को समर्थन करेगी. ताकि बीजेपी राज्य में सरकार ना बना पाए.