रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के काफ़िले के सामने लेट गया शख्स, बोला ‘मोदी से मिलना है।’

0
राजनाथ की Z+ सेक्योरिटी तोड़ शख्स ने मोदी से मिलना की जताई इच्छा
राजनाथ की Z+ सेक्योरिटी तोड़ शख्स ने मोदी से मिलना की जताई इच्छा

एक अज्ञात व्यक्ति ने रक्षामंत्री राजनाथ सिंह को जेड प्लस सुरक्षा को भंग करते हुए मंगलवार (3 दिसंबर) को संसद के पास उनके काफिले के सामने आ गया। उस व्यक्ति ने कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलना चाहता था। पूछताछ के लिए उस शख्स को पुलिस ने हिरासत में लिया। पुलिस सूत्रों ने बताया कि राजनाथ सिंह के काफिले के संसद के निकट पहुंचने पर दोपहर करीब 1:25 बजे वह आदमी सड़क पर लेट गया।

यह घटना प्रियंका गांधी के घर में सुरक्षा को तोड़कर उनके घर में घुसने के खबर आने के ठीक एक दिन बाद घटित हुई है। आपको बता दें 25 नवंबर को मध्य दिल्ली के उच्च सुरक्षा वाले लोधी एस्टेट में कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी के घर में एक कार घुस गई थी। इसके बारें में जानकारी 1 दिसंबर को दी गयी।

सूत्रों हवाले से पता चला है कि कार में एक लड़की समेत पांच लोग बैठे थे जो प्रियंका गांधी के घर के बगीचे के पास बने बरामदे तक पहुंचने में कामयाब रहे। कार में बैठे लोग सीधे प्रियंका के बाग में गए और कांग्रेस नेता के साथ एक तस्वीर लेने के लिए कहा। सूत्रों ने दावा किया कि परिवार ने कहा कि वे उत्तर प्रदेश के एक शहर से उसके साथ फोटो क्लिक करने के लिए आए हैं।

25 नवंबर को प्रियंका द्वारा तुगलक रोड पुलिस स्टेशन में इस मामले के संबंध में एक शिकायत दर्ज की गई थी। उन्होंने सीआरपीएफ को सुरक्षा भंग के बारे में भी सूचित किया था और सीआरपीएफ के सभी कर्मियों को जिन्हें प्रियंका की सुरक्षा के साथ काम सौंपा गया था, को ड्यूटी से हटा दिया गया था।

8 नवंबर को गृह मंत्रालय ने प्रियंका सहित गांधी परिवार को दिए गए विशेष सुरक्षा समूह (SPG) कवर को वापस लेने का फैसला किया था, और उन्हें केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) द्वारा प्रदान की गई ‘जेड प्लस’ सुरक्षा दी थी।

यह भी पढ़ें-अर्थव्यवस्था के बारें में ये क्या बोल गए मोदी, वायरल हो रहा है वीडियो

गांधी परिवार को अलग-अलग एजेंसियों से खतरे का आकलन करने के बाद गृह मंत्रालय की एक उच्च-स्तरीय बैठक में निर्णय लिया गया था। खुफिया ब्यूरो के अनुसार, गांधी परिवार को कोई सीधा खतरा नहीं है।