Maharashtra Politics: मराठा समुदाय से ताल्लुक रखने वाले एकनाथ शिंदे को BJP ने ऐसे ही नहीं बनाया CM, बढ़ने वाली है उद्धव की टेंशन

0
80

Maharashtra Politics: मराठा समुदाय से ताल्लुक रखने वाले एकनाथ शिंदे को BJP ने ऐसे ही नहीं बनाया CM, बढ़ने वाली है उद्धव की टेंशन

मुंबई: महाराष्ट्र की राजनीति में बीजेपी ने बड़ा दांव खेला है। बीजेपी आलाकमान ने हाथ आई मुख्यमंत्री की कुर्सी को शिवसेना के बागी विधायकों के नेता एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) को देकर एक साथ दो न‍िशाने साधे हैं। इसमें पहला श‍िवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की मुश्किलें बढ़ाने का काम क‍िया गया है। क्‍योंक‍ि शिंदे को सरकार की कमान सौंप कर बीजेपी ने जाहिर कर दिया है कि उनके लिए बालासाहेब ठाकरे के हिंदुत्व के असली वारिस एकनाथ शिंदे हैं।

बाला साहेब के शिष्य रह चुके एकनाथ श‍िंदे मराठा समुदाय से ताल्लुक रखते हैं। शिंदे अगर मुख्यमंत्री रहते हुए महाराष्ट्र के मतदाताओं खासकर शिवसेना के कट्टर समर्थकों और शिवसैनिकों को यह समझा पाने में कामयाब हो गए कि वो बालासाहेब के हिंदुत्व के एजेडें को ही लागू करने के लिए बीजेपी के साथ आए हैं तो उद्धव ठाकरे के सामने अस्तित्व बचाने का गहरा संकट खड़ा हो जाएगा।

Maharashtra CM Swearing Ceremony: एकनाथ श‍िंदे ने ली महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री पद की शपथ, फडणवीस बने डेप्‍युटी सीएम
टवेंटी-टवेंटी के अंदाज में सरकार चलाते नजर आएंगे श‍िंदे

अपने फैसले से विरोधियों, राजनीतिक जानकारों और मतदाताओं के साथ-साथ अपनी ही पार्टी को चौंकाने वाली बीजेपी ने एक बार फिर से महाराष्ट्र को लेकर ऐसा दांव खेल दिया है, जिसने शिवसेना के अस्तित्व और भविष्य को लेकर बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है। मुख्यमंत्री बनने के बाद जाहिर तौर पर हिंदुत्व, बालासाहेब की विरासत और शिवसेना पर कब्जा हासिल करने के लिए एकनाथ शिंदे टवेंटी-टवेंटी के अंदाज में सरकार चलाते नजर आएंगे।

Maharashtra Politics: उद्धव सरकार तो गई, अब बागियों के साथ BJP का पूरा गणित समझिए


ऐसे ही नहीं श‍िवसैन‍िक को सौंपी कमान

शिवसेना के ज्यादातर विधायक पहले ही उनके साथ आ चुके हैं और आने वाले दिनों में पार्टी के सांसदों, संगठन के नेताओं खासकर शिवसेना के शाखा प्रमुखों ने अगर शिंदे के साथ जाना बेहतर समझा तो उद्धव ठाकरे की परेशानियां बढ़ जाएगी। माना जा रहा है कि, इसी लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए बीजेपी ने तमाम कयासों को गलत साबित करते हुए महाराष्ट्र में सत्ता की कमान एक शिवसैनिक को ही थमाने का फैसला किया।

navbharat times -Who is Eknath Shinde: ठाणे का ऑटोवाला चलाएगा महाराष्ट्र की सरकार, पार्षद से सीएम तक…एकनाथ शिंदे का सफरनामा
2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर बड़ा दांव

शिवसेना सासंद संजय राउत ने गुरुवार को ही शिंदे को चेतावनी देते हुए कहा था कि उन्हें शिवसेना ही मुख्यमंत्री बना सकती है, बीजेपी नहीं। लेकिन यह मोदी-शाह के युग की बीजेपी है जो पिछले 8 सालों से लगातार अपने फैसलों से चौंकाने का काम कर रही है और एक बार फिर से बड़ी पार्टी होने और मुख्यमंत्री पद पर स्वाभाविक दावा होने के बावजूद शिंदे को मुख्यमंत्री बनाकर बीजेपी ने राष्ट्रपति चुनाव, महाराष्ट्र में स्थानीय निकायों के होने वाले चुनाव के साथ-साथ 2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर भी बड़ा दांव खेल दिया है।

राजनीति की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – राजनीति
News