होली पर कुमार विश्वास ने ली शरद त्रिपाठी की मौज

0

होली के मार्फ़त बात करें तो इस दिन एक दूसरे पर रंग डालना और भरपूर मज़े लेना, हंसी-मज़ाक सब बिना हद के शुरू रहता है. बुरा मानना और गुस्सा करना होली की तहजीब तो कतई नहीं है. अब राजनीति की बात करें तो यहाँ पर बगैर होली के भी जूता-वूता चल ही जाता है. सही पकड़ा आपने, हम बात कर रहे हैं कुछ दिनों पहले अपनी ही पार्टी के एक विधायक की जूतन-पूजन करने वाले सांसद शरद त्रिपाठी की. होली का माहौल था तो कुमार विश्वास ने राजनीति पर बहुत सारी कवितायेँ पोस्ट कर डाली. अब इसमें एक थी त्रिपाठी जी के बार में, वैसे इस बार त्रिपाठी जी ने बड़े प्यार से इस ट्वीट को रिट्वीट करते हुए लिखा- बुरा न मानो होली है.