जानियें, क्यों किया था बक्सर के डीएम ने खुदखुशी?

0
जानियें, क्यों किया था बक्सर के डीएम ने खुदखुशी?
जानियें, क्यों किया था बक्सर के डीएम ने खुदखुशी?

आत्महत्या इंसान क्यों करता है, इसके पीछे तरह के वजह गिनाए जाते है, ज्यादातर लोग सिर्फ किसी परेशानी से तंग आकर खुद को मौत के घाट उतार लेते है। सवाल कई सारे खड़े होते है, लेकिन जवाब ढूढंना उतना ही मुश्किल हो जाता है। हमारा समाज आत्महत्या करने वाले को कायर, डरपोक न जाने क्या-क्या कहता है, लेकिन कभी किसी ने मरने वाले की मनोदशा पर गौर नहीं किया। कितनी परेशानी होगी, न जाने कितने उलझनों से घिरा हुआ होगा मरने वाला शख्स? उसकी क्या मनोदशा रही होगी, उससे बेहतर कोई और नहीं जान सकता है। जिंदगी को खत्म कर लेना आसान नहीं होता है, लेकिन यह किसी भी समस्या का समाधान तो नहीं है।

आत्महत्या से जुड़ी हुई खबरों से मीडिया भरी होती है, ऐसा ही एक मामला बिहार के बक्सर के डीएम का आया है। हाल ही बक्सर के डीएम ने खुदखुशी कर ली, डीएम ने आत्महत्या क्यों की, इस बात की चर्चा सोशल मीडिया से लेकर पारंपरिक मीडिया तक होने लगा। आपको बता दें कि सुसाइड करने वाला शख्स डीएम बक्सर था, जिसने यूपी के गाजियाबाद के रेलवे के पट्टरियों पर कूदकर अपनी जान दे दी थी। डीएम के आत्महत्या की चर्चा पूरे देश में होने लगी।

बक्सर के डीएम ने मरने से पहले एक वीडियो बनाया था, जिसमें वह आत्महत्या क्यों कर रहा है, इसकी वजह बताई गई है। डीएम ने सुसाइड क्यों की, इसको जानने के लिए वीडियो को देखे। फिलहाल हम आपको डीएम के सुसाइड करने के कारण का कुछ अंश बता दे रहे है, पूरी जानकारी के लिए वीडियो जरूर देखें।

बक्सर के डीएम ने वीडियो में बताया है कि वह अपनी जिंदगी से परेशान हो चुका था, वह अपने परिवार और पत्नी के बीच में फंस जाता था, उसके लिए यह सब संभाल पाना मुश्किल हो गया था, इसी तरह के तमाम कारण बक्सर के डीएम ने मरने से पहले बनाए गए वीडियो में बताया।

जिंदगी हर किसी को प्यारी होती है, और यह भी सही बात है कि हर किसी के जिंदगी में परेशानियों का बसेरा होता है, लेकिन इसका मतलब यह तो नहीं है कि आप अपनी जिंदगी को मौत के घाट उतार लें। सामाजिक-परिवारिक जिम्मेदारियों को निभाते-निभाते लोग खुद को भूल जाते है, जिसकी वजह से आत्महत्या कर लेते है। दूसरों की खुशियों का ध्यान रखना जरूरी है, लेकिन साहेब अपनी खुशियों का भी ध्यान रखना अपना ही फर्ज होता है, काश की बक्सर के डीएम ने यह बात समझ ली होती तो आज वो हम सबके बीच में होता। डीएम के द्वारा बताए गये सुसाइड कारण पर गौर किया जाए तो डीएम ने पारिवारिक कलह की वजह से सुसाइड किया। यहाँ सवाल यह खड़ा होता है कि अगर डीएम अपनी शादी से खुश नहीं थे, तो इस रिश्ते से निजात पा सकते थे, ऐसे में सुसाइड ही करना ही तो समाधान नहीं था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fifteen + two =