जाने महिलाओं के लिए बनाए गए कंडोम को इस्तेमाल करने के तरीके

0
Condom
जाने महिलाओं के लिए बनाए गए कंडोम को इस्तेमाल करने के तरीके

महिलाओं के लिए बनाए गए कंडोम दूसरे साधारण कंडोम जैसे ही रबर के बने होते हैं , अंतर सिर्फ ये होता है कि पुरुषों के कंडोम में पीछे की तरफ खुली रिंग होती हैं और ये कंडोम रोल किया हुआ होता है जिसको लिंग पे चढ़ाते समय खुलता जाता हैं, इसके ठीक उल्टे महिलाओं के कंडोम में दो रिंग होती हैं एक आगे की तरफ इनर रिंग,दूसरी पुरुषों के कंडोम के समान पीछे की तरफ खुली हुई, महिलाओं के कंडोम पुरुषों के कंडोम के मुकाबले बहुत ज्यादा चौड़े होते हैं और इसका इस्तेमाल भी पुरुषों के कंडोम से ठीक उल्टा किया जाता है.

सेक्स के दौरान कंडोम पहनना गर्भधारण या प्रेगनेंसी को रोकने में और यौन संचारित संक्रमण को फैलने से रोकने में सहायता कर सकता है. चाहे आप मेल कंडोम प्रयोग कर रहे हों या फ़ीमेल कंडोम का, महत्वपूर्ण यह है कि इसे सही तरीके से पहना जाए अन्यथा यह उतना प्रभावकारी नहीं होगा.


यह बिल्कुल एक पतले रब्बर के लंबी थैली जैसे होता है जिसकी दोनों तरफ दो गोल लचीली चूड़ियां होती है. जिसमे से एक चूड़ी खुली होती है तथा दूसरी इसी रब्बर से ढंकी थैली जैसी जिसमे स्त्राव जमा होगा तथा खुली हुई चूड़ी से प्रवेश होगा. जो चूड़ी थैली के ढंके हिस्से में है, उसे मोड़कर योनि में अंदर तक उंगली के सहारे डाल दे. तथा जो चूड़ी खुली है उसे योगी के बाहर ही एक इंच तक छोड़ दें. जिसमे से प्रवेश होगा.

कार्य के पूरा होने पश्चात बाहरी चूड़ी को गोल घुमाकर अंदर का तरल सील करके बाहर खींच लें। एक थैली के समान. केवल एक ही बार इस्तेमाल करें, इसे दूबारा से इस्तेमाल न करें. ज्ञात रहे क्रिया के दौरान घर्षण से बाहर वाली चूड़ी कहीं अंदर ना खींच जाए. केवल इस बात पर ध्यान दे.

यह भी पढ़ें : सेक्स के लिए तड़पती महिलाएं अपने पार्टनर को करती हैं ये 4 इशारे

यदि आप किसी सेक्स टॉय का प्रयोग कर रहे हों तो उसपर भी कंडोम पहना दें। कुछ सेक्स टॉयज को बनाने में प्रयुक्त सामान सदैव आपके शरीर के अंदर प्रयोग के लिए सुरक्षित नहीं होते हैं. खिलौनों को स्वच्छ बनाए रखना कठिन हो सकता है जिसका अर्थ यह है कि उन पर बैक्टीरिया जमा हो सकते हैं, विशेषकर ऐसे खिलौनों पर जो छिद्रयुक्त पदार्थों से बने होते हैं.