कन्नौज बस हादसा: जिंदा जल गए 20 से ज्यादा यात्री; DNA टेस्ट से होगी मृतकों की पहचान

0
कन्नौज बस हादसा
कन्नौज बस हादसा

10 जनवरी शुक्रवार देर रात उत्तर प्रदेश के कन्नौज में जीटी रोड हाइवे पर लग्जरी स्लीपर बस और एक ट्रक के बीच एक्सीडेंट हो गया। इस एक्सीडेंट की वजह से बस में आग लग गयी।

इस एक्सीडेंट में करीब 15-20 लोगों के मरने की खबर है। इसके अलावा 18- 20 लोग मिसिंग हैं और कई लोग बुरी तरह घायल बताए जा रहे हैं।

खबरों की माने तो बस में तकरीबन 45 लोग सवार थे। अभी भी मृतकों का सटीक आंकड़ा सामने नहीं आ सका है। पुलिस के बयान के मुताबिक शव बुरी तरह से जल चुके हैं, उनकी हड्डियां बिखरी हुई हैं, इसलिए केवल डीएनए टेस्ट से ही मौत का आंकड़ा तय किया जा सकेगा। पहली बार देखने में लगा कि केवल आठ लोगों के जिंदा जलने की आशंका है।

बचाव कार्य जारी

इस बस में करीब 45 लोग सवार थे। जिसमे से 25 लोग बच पाए हैं। इन 25 लोगों में से 12 लोगों को मेडिकल कॉलेज तिर्वा में और 11 लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 2 लोग पूरी तरह से सुरक्षित थे और उन्हें घर भेज दिया गया था। 18-20 लापता हैं, हो सकता है कि वे मर गए लेकिन यह क्लियर नहीं है।

मुआवजे का एलान

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस हादसे में मृतकों के घरवालों को 2 लाख और घायलों को 50-50 हजार देने की घोषणा की है।

यह भी पढ़ें: कोच्चि में समुद्र के किनारे बना आलीशान अपार्टमेंट मिनटों में हुआ ध्वस्त

इसके अलावा कैबिनेट मंत्री रामनरेश अग्निहोत्री, विधायक अर्चना पांडेय और आईजी (कानपुर रेंज) को को घटनास्थल पर जाने का तत्काल निर्देश दिया। इस हादसे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी शोक व्यक्त किया है।