Journalist Vimal Kumar Yadav murder case: भारत नेपाल सीमा से 5वां आरोपी अरेस्ट

3
Journalist Vimal Kumar Yadav murder case: भारत नेपाल सीमा से 5वां आरोपी अरेस्ट

Journalist Vimal Kumar Yadav murder case: भारत नेपाल सीमा से 5वां आरोपी अरेस्ट

अररिया: रानीगंज के प्रखंड पत्रकार विमल कुमार यादव हत्याकांड से अक्रोशितों होकर लोग पूरे बिहार में श्रद्धांजलि सभा और कैंडल मार्च निकालकर अपनी बात रख रहे हैं। वहीं 24 घंटे के भीतर चार नामजद आरोपितों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने पांचवां नामजद आरोपी अर्जुन शर्मा को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। अररिया पुलिस अर्जुन शर्मा की गिरफ्तारी भारत नेपाल सीमा क्षेत्र के जोगबनी के चाणक्या चौक से बीती देर रात गिरफ्तार करने की बात कह रही है। लेकिन उनकी गिरफ्तारी की बात जानकार नेपाल के विराटनगर स्थित होटल से करने की बात कही जा रही है, जिसमें अररिया सदर एसडीपीओ रामपुकार सिंह, फारबिसगंज एसडीपीओ खुशरू सिराज सहित पांच थानाध्यक्ष और पुलिस बल के साथ नेपाल प्रहरी के अधिकारी के शामिल होने की बात कही जा रही है।

हत्याकांड के आरोपित रानीगंज के बेलसरा निवासी अर्जुन शर्मा पिता-विशेश्वर शर्मा का पुराना आपराधिक इतिहास रहा है और 2019 में भी रानीगंज थाना कांड संख्या -134/2019 दिनांक 12.04.2019 में हत्याकांड के आरोपी रहे हैं। अन्य एक नामजद आरोपी की गिरफ्तारी के लिए अररिया जिला पुलिस विभिन्न ठिकानों पर छापेमारी कर रही है।

हत्याकांड की साजिश अररिया जेल में बंद क्रांति यादव और सुपौल जेल में बंद रुपेश यादव के रचे जाने का दावा अररिया एसपी अशोक कुमार सिंह शुरू से करते आ रहे हैं। घटना के लिए पूर्व में 2019 में पत्रकार विमल कुमार यादव के भाई सरपंच शशिभूषण उर्फ गब्बू यादव के हत्याकांड के कारण पुरानी रंजिश को कारण बता रहे हैं। दरअसल, अपने छोटे भाई शशिभूषण उर्फ गब्बू हत्याकांड का सूचक पत्रकार विमल कुमार यादव स्वयं था और केस ट्रायल पर था।जिसकी सुनवाई शीघ्र होने वाली थी। फलस्वरूप गवाही न देने के लिए उन पर दबाव बनाने की बात परिजन करते आए हैं। गवाही को लेकर बदमाशों की ओर से हत्याकांड को अंजाम देने की बात कही जा रही है।
Journalist Murder Inside Story: पहले सरपंच फिर पत्रकार की हत्या, बाइक के कारण शुरू हुआ था खौफनाक मौत का खेल
पत्रकार विमल कुमार यादव हत्याकांड मामले में गिरफ्तार किए गए पूर्व में चार आरोपितों में भरगामा थाना क्षेत्र के भरना गांव के रहने वाले विपिन यादव पिता-छेदी यादव, रानीगंज के बेलसरा के रहने वाले भवेश यादव पिता-लस्सी यादव, आशीष यादव पिता-देवानंद यादव, रानीगंज के कोशिकापुर के रहने वाले उमेश यादव पिता- स्व.तेजनारायण यादव हैं।
navbharat times -पत्रकार विमल कुमार यादव हत्याकांड : अररिया पुलिस ने चार आरोपियों को दबोचा, क्या जेल के अंदर रची गई साजिश?इससे पहले घटना के बाद रानीगंज के प्रखंड पत्रकार विमल कुमार यादव हत्याकांड मामले में पुलिस ने उनके पिता हरेंद्र प्रसाद सिंह के फर्द बयान पर रानीगंज थाना में प्राथमिकी कांड संख्या-338/2023 दिनांक 18 अगस्त 2023 भादवि की धारा 302/120(बी),34 भादवि एवं 27 सशस्त्र अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया था। प्राथमिकी में आठ लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज किया गया। आठ नामजद आरोपितों में से पांच को पुलिस ने अब तक गिरफ्तार कर लिया है। जबकि आरोपी रुपेश यादव सुपौल और क्रांति यादव अररिया जेल में बंद है। वहीं फरार चल रहे एक अन्य आरोपी माधव यादव को गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम विभिन्न ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। पुलिस फरार चल रहे आरोपी की जल्द गिरफ्तारी का दावा कर रही है।

बिहार की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Delhi News