हमीरपुर- पंचायत अध्यक्ष की सीट के लिए जयंती राजपूत का अध्यक्ष बनना तय

0

हमीरपुर: हमीरपुर में साढ़े पांच माह से जिला पंचायत की सीट रिक्त है. जल्द ही क्षेत्र में उप चुनाव होने वाले है. बीते दिन यानी मंगलवार को भाजपा समर्थित जरिया जिला पंचायत सीट से सदस्य जयंती राजपूत ने अपने समर्थकों के साथ नामांकन पत्र भरने पहुंची. उन्होंने डीएम कार्यालय में नामांकन पत्र दाखिल किया. जयंती राजपूत का अध्यक्ष पद के लिए एक मात्र नामांकन दाखिल होने से उनका अध्यक्ष बनना तय माना जा रहा है.

डा. वंदना के खिलाफ दो अप्रैल को 11 जिला पंचायत ने मोर्चा खोल अविश्वास प्रस्ताव पेश किया

बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की करीबी रिश्तेदार सपा जिला पंचायत अध्यक्ष डा. वंदना के खिलाफ दो अप्रैल को 11 जिला पंचायत ने मोर्चा खोल अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था. इसी के बाद निर्वाचन आयोग ने रिक चल रहें जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए उप चुनाव की तिथि का ऐलान किया. मंगलवार को नामांकन और 25 सितंबर को वोटिंग होनी है.

जिला पंचायत अध्यक्ष पद की सीट पिछड़ी जाति के लिए आरक्षित

जिला पंचायत अध्यक्ष पद की सीट पिछड़ी जाति के लिए आरक्षित है. आपको बता दें कि घोषित उप चुनाव प्रकिया के अनुसार, मंगलवार को वार्ड नंबर 17 जरिया क्षेत्र की जिला पंचायत सदस्य जयंती राजपूत संतराम मुख्यालय स्थित नगर पालिक परिसर पहुंची. इसके बाद जयंती अपने प्रस्तावक के साथ डीएम कार्यालय भी गई. उधर जाकर उन्होंने तीन सेटों में नामांकन पत्र दखिल किया. अध्यक्ष पद के लिए इकलौत नामांकन दाखिल होने से उनका अध्यक्ष बनना तय माना जा रहा है. इसे लेकर बीजेपी के खेमे में खुशी नजर आ रहीं है.

यह भी पढ़ें: हमीरपुर- पेट्रोल-डीजल ने उगले आग, कांग्रेसियों व सपाइयों ने की नारेबाजी और धरना-प्रदर्शन

कौन-कौन शामिल

इस दौरान राठ विधायक मनीषा अनुरागी, भाजपा जिलाध्यक्ष संतविलाश शिवहरे, पुरी एमएलसी युवराज सिंह, नगर पालिक अध्यक्ष कुलदीप निषाद, जिला पंचायत सदस्य कौशल किशोर द्विवेदी समेत अन्य लोगो भी मौजूद थे. बता दें कि अध्यक्ष अखिलेश यादव की करीबी रिश्तेदार सपा जिला पंचायत अध्यक्ष डा. वंदना ने 14 जनवरी 2016 को जिला पंचायत अध्यक्ष की सीट निर्विरोध हासिल की थी.