Indore News : शहर कांग्रेस अध्यक्ष बनने के लिए चेयर रेस | Chair Race For City Congress President | Patrika News

0
167

Indore News : शहर कांग्रेस अध्यक्ष बनने के लिए चेयर रेस | Chair Race For City Congress President | Patrika News

कांग्रेस में संगठनाठत्मक रूप से जल्द ही फेरबदल होना है। आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर प्रदेश के कई जिला और शहर अध्यक्ष बदलने के साथ कार्यवाहक अध्यक्ष भी नियुक्त होंगे। इंदौर शहर और जिला में भी अध्यक्ष बदलने की सुगबुगाहट है। इसके चलते अध्यक्ष बनने के लिए दावेदार भोपाल में प्रदेशाध्यक्ष नाथ से लेकर पार्टी के अन्य बड़े नेताओं की परिक्रमा कर रहे हैं। अब इंदौर शहर कांग्रेस कमेटी का नया अध्यक्ष कौन होगा? इसका पता जल्द ही चल जाएगा, लेकिन दावेदारों की सूची में नाम बढ़ते ही जा रहे हैं।

पहले जहां शहर अध्यक्ष की चेयर रेस में अश्विन जोशी, सुरजीत सिंह चड्ढा, अरविंद बागड़ी और केके यादव आदि शामिल थे, वहीं अब नया नाम गोलू अग्निहोत्री का दौड़ पड़ा है। कांग्रेसियों की मानें तो शहर अध्यक्ष के लिए दावेदारी कर रहे बागड़ी, यादव और अग्निहोत्री में से सबसे ऊपर नाम गोलू का ही है। इसके साथ ही व प्रदेशाध्यक्ष कमल नाथ की पसंद अलग है। पिछले दिनों जब नाथ इंदौर आए थे, तो गोलू के घर भी गए थे। इसके अलावा गोलू को चार नंबर से चुनाव लड़ाने की भी तैयारी है। इसके चलते निगम चुनाव में उन्हें यहां का प्रभारी बनाया गया था।

कांग्रेसियों का कहना है कि शहर अध्यक्ष को बदलने की कवायद चल रही है। जल्द ही कुछ न कुछ बड़ा बदलाव होगा। शहर में अध्यक्ष के साथ दो कार्यवाहक अध्यक्ष भी बनाए जाएंगे। कांग्रेसियों के अनुसार शहर अध्यक्ष बनने की दौड़ में शामिल गोलू जब शहर अध्यक्ष बाकलीवाल के दफ्तर पर रखे गए दीपवली मिलन समारोह में पहुंचे थे तब उन्होंने विधायक वर्मा के साथ काफी देर तक बातचीत की थी। इसको देखकर सभी को लग गया कि अध्यक्ष की कुर्सी हासिल करने के लिए गोलू ने विधायक सज्जन सिंह वर्मा सहित शहर के अन्य नेताओं को साधने का काम शुरू कर दिया।

रफीक की वापसी की चर्चा नगर निगम चुनाव में वार्ड दो से कांग्रेस नेता रफीक खान ने पत्नी फातमा खान के लिए टिकट मांगा था। कांग्रेस ने पूर्व पार्षद मुबारिक खान की पत्नी को टिकट दिया। इस पर रफीक ने बगावत कर पत्नी को चुनाव लड़वाया और वो जीत गईं। इधर रफीक को 6 वर्ष के लिए पार्टी से बाहर कर दिया गया। अब उन्हें पार्टी में वापस लाने की चर्चाओं का बाजार गर्म है, क्योंकि रफीक शहर अध्यक्ष बाकलीवाल के यहां दीपावली मिलन समारोह में पहुंचे। इसके पहले भी वे कांग्रेस के आयोजन में शामिल होते रहे हैं

वर्मा-बजाज बन सकते हैं कार्यवाहक अध्यक्ष पूर्व पार्षद अभय वर्मा और पूर्व युवा कांग्रेस जिला अध्यक्ष अमन बजाज को कार्यवाहक अध्यक्ष बनाने को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है। गौरतलब है कि नगरीय निकाय चुनाव में संगठनात्मक मदद न मिलने पर शहर अध्यक्ष विनय बाकलीवाल की बहुत खिलाफत हुई। महापौर प्रत्याशी संजय शुक्ला से लेकर पार्षद प्रत्याशियों ने मोर्चा खोला। इतना ही नहीं, अरविंद बागड़ी को शहर अध्यक्ष बनवाने के लिए विधायक शुक्ला, जीतू पटवारी और विशाल यादव एक हो गए। इन तीनों की तिकड़ी ने प्रदेशाध्यक्ष के आगे बागड़ी की जमावट कर दी, लेकिन बाकलीवाल ने विधायक सज्जन सिंह वर्मा का दामन थामकर बागड़ी को किनारे कर दिया और उनकी कुर्सी छीनने में लगे नेताओं को अपनी ताकत दिखा दी। कांग्रेसियों का कहना है कि बाकलीवाल विधानसभा चुनाव होने तक टिके रहने का दावा कर रहे, लेकिन ऐसा होता दिख नहीं रहा।



उमध्यप्रदेश की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Madhya Pradesh News