तुर्की के राष्ट्रपति को भारत का करारा जवाब

273
india turkey
तुर्की के राष्ट्रपति को भारत का करारा जवाब

तुर्की-पाकिस्तान संयुक्त घोषणा में जम्मू-कश्मीर को लेकर दिए गए बयान पर भारत ने शनिवार को तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की, जिसमें तु्र्की को नई दिल्ली के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप न करने और पाकिस्तान से आतंकवाद से उत्पन्न गंभीर खतरे पर तथ्यों की उचित समझ विकसित करने का आह्वान किया गया है।

अपनी पाकिस्तान यात्रा के दौरान तुर्की के राष्ट्रपति इरदुगान द्वारा जम्मू-कश्मीर के संदर्भ में की गई टिप्पणी पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि भारत ने जम्मू-कश्मीर के सभी टिप्पणियों को खारिज कर दिया है।

5d55e9ef 50dd 4ca8 b60f e58fdb6c17c8 -

रवीश कुमार ने कहा कि कश्मीर भारत का अभिन्न और अविभाज्य अंग है। उन्होंने कहा कि हम तुर्की नेतृत्व से भारत के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप न करने और तथ्यों की उचित समझ विकसित करने का आह्वान करते हैं, जिसमें पाकिस्तान से भारत और क्षेत्र में आतंकवाद से उत्पन्न गंभीर खतरा भी शामिल है।

यह भी पढ़ें :इमरान खान ने भारत के खिलाफ दिया आपत्तिजनक बयान

आपको बता दें कि तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब इरदुगान दो दिन की पाकिस्तान यात्रा पर थे। संयुक्त सत्र में एफएटीएफ की आगामी बैठक के संदर्भ में कहा कि मैं इस बात पर भी जोर देना चाहता हूं कि हम कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान का समर्थन करेंगे। अब देखना होगा की इस मुद्दे को लेकर भारत और टर्की के बीच सम्बन्ध कैसे रहते है।