Indian Railway news : रेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर! फिर से मिल सकती है किराए में छूट, मंत्रालय कर रहा विचार

0
56

Indian Railway news : रेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर! फिर से मिल सकती है किराए में छूट, मंत्रालय कर रहा विचार

Indian Railway news : हाल ही में रेल मंत्रालय ने संसद को एक लिखित जवाब में कहा था कि रियायतों के चलते उस पर भारी बोझ पड़ता है। मंत्रालय ने कहा था कि उसकी रेल किराए में छूट को बहाल करने की कोई योजना नहीं है। अब रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है कि वे किराए में कुछ रियायतें फिर से शुरू करने पर विचार कर रहे हैं।

 

रेल किराए में छूट हो सकती है बहाल

हाइलाइट्स

  • विभिन्न श्रेणी के यात्रियों के लिए रेल किराए में छूट हो सकती है बहाल
  • रेलवे छूट को लेकर अपने फैसले पर दोबारा कर रहा विचार
  • इससे पहले मंत्रालय ने संसद में कहा था कि नहीं है छूट बहाल करने की योजना
  • मंत्रालय ने कहा था कि रियायतों से पड़ता है भारी बोझ
नई दिल्ली : रेल मंत्रालय (Ministry of Railways) रेल किराए में कुछ रियायतों (Rail Ticket Concession) को फिर से बहाल कर सकता है। मंत्रालय वरिष्ठ नागरिकों और खिलाड़ियों सहित विभिन्न श्रेणी के यात्रियों के लिए रेल किराए में कुछ रियायतों को बहाल करने पर विचार कर रहा है। ये रियायतें कोविड-19 महामारी के दौरान बंद कर दी गई थीं। सूत्रों ने कहा कि रेलवे इस फैसले पर दोबारा विचार कर रही है, क्योंकि राष्ट्रीय ट्रांसपोर्टर के भी सामाजिक दायित्व हैं। इससे पहले रेल मंत्रालय ने संसद में एक लिखित जवाब में कहा था कि रियायतों के चलते उस पर भारी बोझ पड़ता है। इस कारण उसका इन रियायतों को वापस बहाल करने का कोई इरादा नहीं है। रेलवे के इस फैसले की काफी आलोचना हुई है।

किराए में कुछ रियायतों को फिर से शुरू करने पर विचार

अब रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “हम इस पर विचार कर रहे हैं कि क्या किराए में कुछ रियायतें फिर से शुरू की जा सकती हैं। रेल यात्रा के संबंध में अब पूरी तरह से सामान्य स्थिति आ गई है।” रियायतों को फिर से शुरू नहीं करने के सरकार के अब तक के रुख की काफी आलोचना हुई है। यहां तक कि भाजपा सांसद वरुण गांधी ने भी वरिष्ठ नागरिकों को टिकटों पर दी जाने वाली रियायत खत्म करने के फैसले पर सवाल उठाया है। उन्होंने पूछा कि जब सांसदों को रेल किराए पर सब्सिडी मिल रही है, तो इस राहत को ‘बोझ’ के रूप में क्यों देखा जाता है।

यह भी देखें

Copy

Railway Senior Citizen Quota खत्म, रेल मंत्री ने कहा- रेलवे पर काफी बोझ पड़ रहा था

रियायतों के चलते रेलवे पर भारी बोझ
हाल ही में रेल मंत्रालय ने संसद को एक लिखित जवाब में कहा था कि रियायतों के चलते उस पर भारी बोझ पड़ता है। मंत्रालय ने कहा था कि उसकी रेल किराए में छूट को बहाल करने की कोई योजना नहीं है। मंत्रालय ने बताया कि केवल स्पेशल कैटगरी वाले लोगों को किराए में छूट की सुविधा दोबारा शुरू की गई है। इनमें चार श्रेणी के दिव्यांग, 11 कैटगरी के मरीज और और छात्र शामिल हैं। सीनियर सिटीजंस और खिलाड़ियों के साथ-साथ बाकी कैटगरी के यात्रियों के लिए यह सुविधा बहाल नहीं की गई है।
navbharat times -Indian Railway news: सीनियर सिटीजंस को रेल टिकट में छूट मिलेगी या नहीं! जानिए सरकार ने क्या कहा
कोरोना से पहले मिलती थीं किराए में रियायतें

कोरोना काल से पहले सीनियर सिटीजंस को रेल टिकट पर 50 फीसदी तक छूट (senior citizens rail ticket concession) मिलती थी। लेकिन कोरोना काल में इस सुविधा को बंद कर दिया गया। कोरोना का प्रकोप कम होने के बाद जब रेल सेवा को फिर से शुरू किया गया तो बुजुर्गों को मिलने वाली छूट (Senior Citizen Concession) को बहाल नहीं किया गया।

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए NBT फेसबुकपेज लाइक करें

Web Title : indian railway news good news for railway passengers railways may revive some fare rebates
Hindi News from Navbharat Times, TIL Network

राजनीति की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – राजनीति
News