IND vs SA: गेंदबाजों के बाद बल्लेबाजों ने डुबोई टीम इंडिया की लुटिया, इन पांच कारणों से तीसरे टी20 में भारत को मिली हार

0
188


IND vs SA: गेंदबाजों के बाद बल्लेबाजों ने डुबोई टीम इंडिया की लुटिया, इन पांच कारणों से तीसरे टी20 में भारत को मिली हार

रिली रुसो के करियर के पहले शतक के बाद गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन से दक्षिण अफ्रीका ने मंगलवार को इंदौर के होल्कर क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए तीसरे और अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में भारत को 49 रन से हरा दिया। हालांकि हार के बावजूद भारत ने 2-1 से सीरीज अपने नाम कर ली। भारत ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। दक्षिण अफ्रीका ने निर्धारित 20 ओवर में 3 विकेट पर 227 रन का स्कोर बनाया। इसके जवाब में भारतीय टीम निर्धारित 18.3 ओवरों में 178 रन ही बना सकी। भारत के लिए दिनेश कार्तिक ने 46, दीपक चाहर ने 31 और ऋषभ पंत ने 27 रन बनाए। 2017 के बाद यह पहला मौक़ा है जब भारत घरेलू धरती पर लक्ष्य का पीछा करते हुए कोई टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच हारा है। आइये, हम आपको तीसरे टी20 में भारत की हार की पांच बड़ी वजह बताते हैं। 

राइली रूसो ने उड़ाए भारतीय गेंदबाजों के होश, ठोका तूफानी शतक 

1- राइली रुसो का शतक

Copy

पहले बल्लेबाजी करने उतरी दक्षिण अफ्रीका ने 30 के स्कोर पर अपना पहला विकेट गंवा दिया था। हालांकि इसके बाद रुसो ने 48 गेंद में आठ छक्कों और सात चौकों से नाबाद 100 रन की पारी खेलने के अलावा डिकॉक (68) के साथ दूसरे विकेट के लिए 90 और ट्रिस्टन स्टब्स (23) के साथ तीसरे विकेट के लिए 87 रन की साझेदारी की जिससे दक्षिण अफ्रीका ने तीन विकेट पर 227 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया। 

2- 228 रन के लक्ष्य के जवाब में लगातार विकेट गंवाती रही टीम इंडिया 

दक्षिण अफ्रीका से मिले 228 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया ने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए और टीम कभी लक्ष्य हासिल करने की स्थिति में नहीं दिखी और अंतत: 18.3 ओवर में 178 रन पर सिमट गई। भारत की ओर से दिनेश कार्तिक ने सर्वाधिक 46 रन बनाए। उनके अलावा दीपक चाहर (31), ऋषभ पंत (27) और उमेश यादव (नाबाद 20) ही 20 रन के आंकड़े को छू पाए।

3- विराट और राहुल के बिना उतरी टीम इंडिया शुरुआती झटकों से उबर नहीं पाई 

भारतीय टीम इस मुकाबले में उपकप्तान लोकेश राहुल और विराट कोहली के बिना खेलने उतरी। भारत की शुरुआत बेहद खराब रही और दूसरे ओवर में ही टीम का स्कोर दो विकेट पर चार रन हो गया। कप्तान रोहित शर्मा (00) कागिसो रबादा (24 रन पर एक विकेट) की पारी की दूसरी ही गेंद को विकेटों पर खेल गए जबकि अगले ओवर में पार्नेल ने श्रेयस अय्यर (01) को पगबाधा किया। कार्तिक ने पार्नेल पर चौके के साथ खाता खोला जबकि सलामी बल्लेबाज पंत ने भी रबादा पर चौका मारा। पंत ने लुंगी एनगिडी का स्वागत दो छक्कों और इतने ही चौकों के साथ किया लेकिन अंतिम गेंद पर कवर में स्टब्स को आसान कैच दे बैठे। उन्होंने 14 गेंद की अपनी पारी में दो छक्के और तीन चौके मारे। कार्तिक ने पार्नेल की लगातार गेंदों पर दो छक्के और एक चौका मारा। भारत ने पावर प्ले में तीन विकेट पर 64 रन बनाए।

 4- सूर्यकुमार के बैटिंग ऑर्डर में बदलाव

सूर्यकुमार यादव इस मुकाबले में नीचे बल्लेबाजी करने उतरे और वह आठ रन बनाने के बाद ड्वेन प्रिटोरियस की गेंद पर स्टब्स को कैच दे बैठे जिससे भारत का स्कोर पांच विकेट पर 86 रन हो गया। भारत ने रनों का शतक 11वें ओवर में पूरा हुआ। हर्षल पटेल (17) ने एनगिडी की गेंद पर चौका और छक्का जड़ा लेकिन फिर मिलर को कैच दे बैठे। पार्नेल ने अक्षर पटेल (09) को विकेटकीपर डिकॉक के हाथों कैच कराके भारत को सातवां झटका दिया।

5- भारतीय गेंदबाजों का न चल पाना 

तीसरे टी20 मैच में केवल दीपक चाहर और उमेश यादव को ही सफलता मिली। बाकी गेंदबाजों का खाता खाली रहा। सिराज और पटेल जैसे गेंदबाज काफी महंगे साबित हुए। आर अश्विन को इस सीरीज में एक भी विकेट नहीं मिला। 



Source link