हरकी पौड़ी से चंडी देवी तक लोगों की सुविधा को देखते हुए बनाई जाएगी यह बड़ी योजना

0

नई दिल्ली: जल्द ही हरिद्वार में हरकी पौड़ी से चंडी देवी के बीच और ऋषिकेश में स्वर्गाश्रम से मुनि की रेती के बीच गंगा के आर-पार रोपवे बनाए जाने की योजना है.

बता दें कि यह इसलिए किया जाएगा क्योंकि दोनों शहरों से आने वाले यात्रियों की संख्या काफी अधिक है इसी कारण उत्तराखंड मेट्रो प्रबंधन ने इस प्रस्तावों को तैयार किया है. उत्तराखंड मेट्रो कारपोरेशन को सरकार ने शहरी क्षेत्रों में यातायात की सुविधाओं के विकास के लिए नोडल एजेंसी बनाने का फैसला दिया है.

इसकी कारण से मेट्रो प्रबंधन ने हरिद्वार और ऋषिकेश जैसे शहरों में आने वाले यात्रियों की सुविधा को देखते हुए इस रोपवे प्रोजेक्ट योजना को तैयार करने का निर्णय लिया है. ताकि तीर्थ यात्रियों को यात्रा के दौरान कोई समस्या न हो.

इसी क्रम में हरिद्वार में हरकी पौड़ी घाट से सीधे चंडी देवी की पहाड़ी तक रोपवे बनाने की तैयारी की गई है, जिसकी लंबाई करीब पांच किमी है. बता दें कि चंडी देवी के लिए उपलब्ध रोपवे नजीबाबाद रोड पर काफी अधिक जाने पर है. जो भी यात्री हरिद्वार घूमने के लिए आते है और इस जगह जाने के लिए उन्हें वाहन का प्रयोग करना पड़ता है. जैसे ही हरकी पौड़ी पर रोपवे कार्य शुरू हो जाएगा तो यात्रियों के लिए चंडी देवी के दर्शन करना काफी सरल हो जाएगा.

दोनों ही प्रस्ताव शासन तक भेजे गए है

वहीं मंत्रों प्रबंधन ने कहा है कि रोपवे के लिए जमीन की भी काफी ज्यादा जरूरत है. ये ही नहीं ठीक इस तरह ऋषिकेश में पौड़ी जिले के स्वर्गाश्रम से टिहरी जिले के मुनि की रेती के बीच भी गंगा के आर पार रोपवे का प्रस्ताव है. बहरहाल दोनों ही प्रस्ताव शासन तक भेजे गए है. आवास विभाग ने इस पर काफी सकारात्मक पक्ष रखा है. विस्तृत डीपीआर के बाद ही तय होगा कि प्रोजेक्ट पीपीपी मोड में दिया जाए या सरकार इस प्रस्ताव को खुद चलाएगी.