आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर दिल्ली में आप और कांग्रेस में संपर्क

0

नई दिल्ली: दिल्ली में आने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर पार्टियों के बीच गठबंधन का सिलसिला बरकरार है. इसी कड़ी में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के संपर्क में होने का पता चला है.

आप सूत्रों के अनुसार, दोनों पार्टियों के बीच गठबंधन की बात को लेकर वर्तमान में अनौपचारिक जरिये से बातचीत चल रहीं है. बहरहाल, दोनों ही दलों के बीच गठबंधन के बारे में कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है.

इस बारे में अटकलें तब ज्यादा तेज हुई जब आप ने पिछले सप्ताह पहली बार विपक्ष की एक बैठक में भाग लिया था, जिसमें कांग्रेस भी शामिल था. सूत्रों का कहना है कि आप की ओर से बातचीत पार्टी के एक बड़े नेता और पार्टी के लिए निर्णय लेने वाली पीएसी के सदस्य द्वारा की जा रहीं  है. आप और कांग्रेस के बीच दिल्ली और पंजाब में सीधा टकराव देखा गया है.  अगस्त तक दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल कहते थे कि कांग्रेस को वोट करने का अर्थ है भाजपा को वोट करने के बराबर है.

स्थानीय नेताओं को गठबंधन से ऐतराज

सूत्रों के अनुसार, दोनों दलों के बीच गठबंधन में पेंच दिल्ली में लोकसभा की सीटों की संख्या है जिन पर कांग्रेस आने वाले चुनाव लड़ना चाहती है. दिल्ली की 7 सीटों में से आप, कांगेस को दो से अधिक सीट देने को तैयार नहीं है. वहीं दिल्ली में लोकसभा की सात सीटों में आप छह पर पहले से ही अपने प्रभारी घोषित कर चुकी है. इन प्रभारियों को ही पार्टी उम्मीदवार घोषित कर दिया जाएगा. दूसरी तरफ कांग्रेस का स्थानीय नेतृत्व आम आदमी पार्टी के साथ गठंधन नहीं करना छठा है लेकिन माना जाता है कि शीर्ष नेतृत्व इस विचार के खिलाफ नहीं है. दिल्ली में कांग्रेस और आप का जनाधार लगभग समान माना जा रहा है.