बंगाल में रहना है तो बोलनी होगी बांग्ला भाषा : ममता बनर्जी

0

पिछले कई दिनों से बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपने रवैये के कारण से चर्चा में हैं, अब एक बार फिर से ममता बनर्जी ने विवादित बयान देकर खुद को कटघरे में खड़ा कर लिया है. असल में ममता बनर्जी ने एक मंच से बोलते हुए कहा है कि अगर बंगाल में रहना है तो बांग्ला बोलना ही होगा.

ममता बनर्जी ने कहा है कि, ‘अगर हम पंजाब जाते हैं तो पंजाबी बोलते हैं, दक्षिण के राज्यों में जाते हैं तो वहां की भाषा को बोलते हैं, या फिर दिल्ली जाते हैं तो हिंदी बोलते हैं, इसी तरह बंगाल में रहने वालों को बंगाल की भाषा ज़रूर चाहिए.

आपको बता दें कि पिछले कुछ दिनों से बंगाल में डॉक्टरों ने उनपर हुई हिंसा के विरोध में हड़ताल कर दिया है. ममता बनर्जी ने उनसे वापिस काम पर आने के लिए कहा था लेकिन डॉक्टरों ने सख्त कार्यवाही के बिना काम पर लौटने से मना कर दिया है.

अब ममता बनर्जी ने ये भी दावा किया कि डॉक्टरों के हो रहे प्रदर्शन में बाहरी लोग शामिल थे, और मामले को खराब करने की कोशिश वही लोग कर रहे हैं. इसके अलावा ममता दीदी ने भाजपा पर बंगालियों और अल्पसंख्यकों को निशाना बनाने का भी आरोप लगाया.

ममता बनर्जी ने एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि बाहरी लोग डॉक्टरों को उकसा रहे हैं, उन्होंने दावा किया कि एक अस्पताल के सामने हो रहे प्रदर्शन में उन्होंने बाहरियों को भी देखा.