Hyundai news: अगर पास है Hyundai और Kia की गाड़ी तो आपके काम की है यह खबर

139

Hyundai news: अगर पास है Hyundai और Kia की गाड़ी तो आपके काम की है यह खबर

नई दिल्ली: अगर आपके पास हुंडई (Hyundai) और किया (Kia) की गाड़ियां हैं तो यह खबर आपके काम की हो सकती है। दक्षिण कोरिया की इन ऑटो कंपनियों ने अमेरिका में करीब 500,000 कारों और एसयूवी मालिकों को इन्हें घर के बाहर पार्क करने की सलाह दी है। इन कारों में आग लगने का खतरा है। पार्किंग की स्थिति में भी इनमें आग लग सकती है।

सीएनएन की एक रिपोर्ट के मुताबिक हुंडई और किया अमेरिका में अपनी कई कारों और एसयूवी को वापस मंगा रही हैं। उनका कहना है कि इन गाड़ियों में foreign contaminants की वजह से एंटी-लॉक ब्रेक कंप्यूटर कंट्रोल मॉड्यूल शॉर्ट सर्किट हो सकता है और इससे इंजन में आग लग सकती है। गाड़ी के खड़े रहने की स्थिति में भी ऐसा हो सकता है। यही वजह है कि इन कंपनियों में गाड़ियों को घर से बाहर पार्क करने को कहा है।
कश्मीर से जुड़ी पोस्ट पर हुंडई मोटर इंडिया के बाद अब पेरेंट कंपनी ने दी सफाई, जानें क्या कहा
क्या है वजह
हुंडई 2016-2018 के बीच बनी Santa Fe SUVs, 2017-2018 में बनी Santa Fe Sport SUVs, 2019 के Santa Fe XL मॉडल्स और 2014-2015 में बनी Tucson SUVs को वापस मंगा रही है। इसी तरह किया 2016-2018 के बीच बनी K900 सेडॉन मॉडल्स और 2014-2016 के बीच बनी Sportage SUVs वापस मंगा रही है। हुंडई कुल 357,830 और किया 126,747 गाड़ियों को वापस मंगा रही है।

डीलर इन गाड़ियों के एंटी-क्लॉक ब्रेकिंग कंट्रोल मॉड्यूल की जांच करेंगे और गड़बड़ी होने पर नया लगाया जा सकता है। साथ ही इनका फ्यूज भी बदला जाएगा। इसके लिए कोई पैसा नहीं लिया जाएगा। हुंडई और किया एक दूसरे से करीब से जुड़ी हैं। हुंडई की पेरेंट कंपनी हुंडई मोटर ग्रुप की किया में कंट्रोलिंग स्टेक है। दोनों कंपनियों के कई मॉडल्स में एक तरह की इंजीनियरिंग है।

navbharat times -Kashmir Related Post: हुंडई, डोमिनोज, KFC… अब तक 9 ने दी सफाई, ना जाने कितनी लंबी होगी ‘भेड़ चाल’ चलने वाली कंपनियों की लिस्ट
भारत में बिजनस
भारत में भी ये दोनों कंपनियां अलग-अलग बिजनस कर रही हैं। हुंडई कई साल से भारत में है जबकि किया ने कुछ साल पहले ही भारत में एंट्री मारी है। हुंडई भारत में अपने पूर्ण स्वामित्व वाली कंपनी हुंडई मोटर इंडिया लिमिटेड के जरिए कारोबार करती है। 25 साल पहले 1996 में हुंडई ने भारतीय बाजार में एंट्री की थी। अभी हुंडई मोटर इंडिया के पोर्टफोलियो में 10 कारें- SANTRO, GRAND i10 NIOS, all-new i20, AURA, VENUE, Spirited New VERNA, All New CRETA, ELANTRA, New 2020 TUCSON और KONA Electric हैं।

navbharat times -Boycott Hyundai: हुंडई की सफाई के बाद भी ठंडा नहीं हुआ लोगों का गुस्सा, आला अधिकारी भी उतरे बॉयकॉट के सपोर्ट में
भारतीय ऑटोमोबाइल बाजार में इसकी हिस्सेदारी 16.4 फीसदी है। कंपनी की 2021 में भारत में डॉमेस्टिक सेल्स 19.2 फीसदी बढ़कर 505,033 यूनिट रही थी। हुंडई भारत में दूसरी सबसे बड़ी कार कंपनी है। हुंडई मोटर इंडिया का भारत में टर्नओवर 6 अरब डॉलर के करीब है। यह भारत में इस वक्त नंबर वन कार एक्सपोर्टर है। यानी भारत से सबसे ज्यादा एक्सपोर्ट हुंडई की कारों का ही होता है।

किन देशों को होता है एक्सपोर्ट
हुंडई इंडिया ने भारत से कारों का एक्सपोर्ट 1999 में शुरू किया था। हुंडई मोटर इंडिया के एक्सपोर्ट का हुंडई मोटर कंपनी के ग्लोबल एक्सपोर्ट में बेहद महत्वपूर्ण योगदान है। हुंडई मोटर इंडिया अफ्रीका, लैटिन अमेरिका, मिडिल ईस्ट, ऑस्ट्रेलिया और एशिया पैसिफिक क्षेत्र में 88 देशों में एक्सपोर्ट करती है। हुंडई मोटर इंडिया के एमडी व सीईओ Unsoo Kim हैं। 2021 में हुंडई इंडिया का एक्सपोर्ट 31.8 फीसदी बढ़कर 130,380 यूनिट का रहा था।

राजनीति की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – राजनीति
News