जानिए हार्ट अटैक से जुड़े लक्षण जिन्हें अनदेखा नहीं किया जा सकता

1198
health
जानिए हार्ट अटैक से जुड़े लक्षण जिन्हें अनदेखा नहीं किया जा सकता

हार्ट से संबंधि बीमारी कभी भी हो सकती है हार्ट अटैक कभी भी अचानक आ सकता है आपको बता दें कि इसके आने के कुछ ऐसे लक्षण हैं, जो आने से पहले ही संकेत देते है. यानी की अटैक आने के एक महिने पहले ही इसके लक्षण नजर आने लगते है.

इन कारणों से आप अटैक के शिकार हो सकते है. यह वह लक्षण है

थकान
बगैर किसी मेहनत या काम करने पर आप थकान महशूस कर रहें है तो यह भी हार्ट अटैक आने का एक कारण है. जब हृदय धमनियां कोलेस्ट्रॉल के कारण बंद या संकुचित हो जाए तो दिल को अधि‍क मेहनत करने की आवश्यकता पड़ जाती है. जिससे जल्द ही शरीर में थकान महसूस होने लगती है. ऐसी स्थि‍ति में कई बार रात में अच्छी खासी नींद लेने के बाद भी आप आलस और थकान का अनुभव करते हैं, जिसके बाद आपको दिन में भी नींद और आराम की ज्यादा जरूरत होती है.

सीने में असहजता
यह लक्षण भी हार्ट अटैक का कारण है. सीने में होने वाली किसी भी प्रकार की असहजता आपको दिल के दौरे का शि‍कार बना सकती है. खास तौर पर सीने में दबाव या फिर जलन महसूस होना. इसके अलावा भी अगर आपको सीने में कुछ परिवर्तन या असहजता का अनुभव हो, तो आप तुरंत ही अपने डॉक्टर से सलाह ले.

imgpsh fullsize anim 20 -

सूजन
जब दिल को शरीर के सभी आंतरिक अंगों में रक्त पहुंचाने के लिए अधि‍क मेहनत करनी पड़ती है, तो शि‍राएं फूल जाती हैं और उनमें सूजन आने की संभावना बढ़ जाती है. जिसका असर आपके पैरो पर पड़ता है, साथ ही आपके अन्य हिस्से में सूजन होने लगती है. इसके कभी-कभी होंठों की सतह पर नीला होना भी इसमें शामिल है.

सर्दी का बना रहना
लंबे समय तक सर्दी या इससे संबंधि‍त लक्षणों का बना रहना भी दिल के दौरे की ओर इशारा करता है. जब दिल, शरीर के आंतरिक अंगों में रक्तसंचार के लिए ज्यादा मेहनत करता है, तब रक्त के फेफड़ों में स्त्रावित होने की संभावना बढ़ जाती है.

imgpsh fullsize anim 21 -

चक्कर आना
जब आपका दिल कमजोर हो जाता है तो उसके द्वारा होने वाले रक्त का संचार भी सीमित होने लगता है और ऐसे में दिमाग तक को अवश्यकता के अनुसार ऑक्सीजन नही पहुंच पाती है जिससे निरंतर चक्कर आना या फिरा सिर हल्का होना आदि इस अटैक आने का एक कारण हो सकता है.

यह भी पढ़ें : पहली बार माँ बनने वाली महिलाएं नवजात शिशु की देखभाल करने के लिए अपनाएं ये टिप्स


इनके अलावा सांस लेने में आपको किसी प्रकार कोई परेशानी होताी है तो यह भी दिल के दौरा पड़ने का एक कारण होता है. जब आपका दिल सही तरीके से काम नहीं कर पाता तो फेफड़ों तक उतनी मात्रा में ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाती है. इस वजह से सांस लेने में कठिनाई होती है. अगर आपके साथ भी ऐसा ही कुछ होता है, तो बिना देर किए आप डॉक्टर को दिखाएं.