Hardik Pandya: रोहित की कप्तानी पर लट्टू हैं हार्दिक पंड्या, अब टीम में के लिए करना चाहते हैं यह काम

0
184


Hardik Pandya: रोहित की कप्तानी पर लट्टू हैं हार्दिक पंड्या, अब टीम में के लिए करना चाहते हैं यह काम

टीम इंडिया के स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या टीम के मौजूदा कप्तान रोहित शर्मा के रवैये काफी खुश हैं। वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे टी20 में मिली जीत के बाद हार्दिक ने पंड्या ने कि रोहित ने खिलाड़ियों को उस तरह का खेल खेलने की आजादी दी है जिसमें वह सहज महसूस करते हैं। कप्तान के इस तरह के रवैये से खिलाड़ियों को नाकामी के बावजूद अधिक जिम्मेदारियां मिलती जिसके उनमें आत्मविश्वास की कमी नहीं होती है।

हार्दिक ने तीसरे टी20 मैच में वेस्टइंडीज पर सात विकेट से जीत के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘जहां तक रवैये की बात है तो बहुत अधिक श्रेय रोहित और कोच (राहुल द्रविड़) को जाता है। कल हम इस पर बात कर रहे थे कि इस विकेट पर कैसा खेल खेलना चाहिए क्योंकि विकेट धीमा है। क्या आप अपनी शैली को बरकरार रखना चाहेंगे। मेरे कहने का मतलब है कि बहुत अधिक श्रेय उन्हें जाता है।’

IND vs WI: भारत के ‘मिस्टर 360’ सूर्यकुमार यादव ने अल्जारी जोसेफ का उतरा दिया बुखार, भूल जाएंगे कैसे करते हैं बाउंसर
उन्होंने कहा, ‘परिणाम को भूल जाइए हम कुछ नया करने की कोशिश कर रहे हैं। हम गलतियां करेंगे और उनसे सीख लेंगे।’ हार्दिक ने सूर्यकुमार यादव की भी जमकर प्रशंसा की जिन्होंने 44 गेंदों पर 76 रन की तूफानी पारी खेली और भारत को 2-1 से बढ़त दिलाने में अहम भूमिका निभाई।

उन्होंने कहा, ‘सूर्या असाधारण खिलाड़ी है। जब वह खेलना शुरू करता है और जिन शॉट को वह खेलता है वह हैरान करने वाले होते हैं। आज उसने शानदार पारी खेली और यह आसान काम नहीं था। पूरा श्रेय उसे जाता है। उसने कड़ी मेहनत की थी।’

navbharat times -Rohit Sharma: टी20 में रोहित के आगे नहीं टिक सका विराट कोहली का यह रिकॉर्ड, इस मामले में बने नंबर-1 कप्तान!
हार्दिक ने भारतीय मध्यक्रम की भी प्रशंसा की जिसमें ऋषभ पंत, दीपक हुड्डा, रविंद्र जडेजा जैसे खिलाड़ी शामिल हैं। उन्होंने कहा, ‘इससे काफी आत्मविश्वास बढ़ता है। यहां तक यदि तीन विकेट 10 रन पर निकल जाएं तब भी विरोधी टीम समझती है कि यह टीम मध्यक्रम के बल्लेबाजों की मदद से 190 रन का स्कोर बना सकती है।’

Copy

अब जबकि ऑस्ट्रेलिया में होने वाला टी20 विश्व कप करीब है तब हार्दिक ने संकेत दिए कि वह टीम में तीसरे तेज गेंदबाज की भूमिका निभाने के लिए तैयार हैं। हार्दिक ने कहा, ‘मैंने हमेशा गेंदबाजी का पूरा लुत्फ उठाया है। मैं पहले भी कई बार कह चुका हूं कि मुझे गेंदबाजी में वापसी करने के लिए कुछ समय चाहिए। जब मैं गेंदबाजी करता हूं इससे टीम को संतुलन और कप्तान को आत्मविश्वास मिलता है।’

navbharat times -Rohit Sharma: कितनी गंभीर है रोहित शर्मा की चोट? BCCI ने दिया अपडेट, विस्फोटक शुरुआत के बाद हुए थे रिटायर हर्ट
उन्होंने कहा, ‘इस बीच मेरा ‘फिलर’ के तौर पर उपयोग किया गया लेकिन अब मैं कह सकता हूं कि मैं टीम के तीसरे या चौथे तेज गेंदबाज के रूप में पूरे चार ओवर कर सकता हूं।’ हार्दिक ने कहा, ‘जिंदगी ने मुझे जो कुछ दिया है मैं उसके लिए आभारी हूं। अगर आप ईमानदारी से कड़ी मेहनत करते हो तो जिंदगी के उतार-चढ़ाव के बावजूद आपको उसका फायदा मिलता है।’



Source link