Haiderpur Firing: पर्सनल कमेंट करने पर भड़का था सिक्किम पुलिस का जवान, साथियों को गोली मारी और फिर थाने पहुंचकर बताई पूरी बात

0
35

Haiderpur Firing: पर्सनल कमेंट करने पर भड़का था सिक्किम पुलिस का जवान, साथियों को गोली मारी और फिर थाने पहुंचकर बताई पूरी बात

विशेष संवाददाता, रोहिणीः रोहिणी जिले के हैदरपुर वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट की सुरक्षा में तैनात सिक्किम पुलिस के एक जवान ने इंसास राइफल से गोलियां बरसाकर अपने कमांडर समेत तीन जवानों की जान ले ली। पुलिस का कहना है कि सोमवार दोपहर आरोपी जवान की बैरक में साथी जवानों से कहासुनी हो गई थी। वारदात में कमांडर और एक सिपाही की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि घायल एक सिपाही ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। आरोपी जवान की फायरिंग से बचने के लिए एक जवान ने बाथरूम में छिपकर जान बचाने की कोशिश की लेकिन उन्हें वहीं पर मार डाला। आरोपी ने तीन जवानों की हत्या के बाद पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया।

आरोपी की पहचान प्रवीण राय के रूप में हुई है। पुलिस सूत्रों ने कहा कि शुरुआती पूछताछ में आरोपी ने बताया कि बैरक में उसके साथी अक्सर गंभीर मजाक करते रहते थे। वारदात के समय भी निजी कमेंट करने पर आरोपी गुस्से में आ गया था। केएन काटजू मार्ग थाना पुलिस हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी से पूछताछ कर रही है।

सिक्किम पुलिस के जवान ने अपने तीन साथियों को गोलियों से भूना, सभी की मौत, दिल्ली के रोहिणी इलाके की घटना
डीसीपी प्रणव तायल के मुताबिक, पुलिस को दोपहर 3 बजे हैदरपुर वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट में गोली चलने की जानकारी मिली। मौके पर पहुंची पुलिस को पता चला कि गोली प्लांट में बने सिक्किम पुलिस के बैरक में चली है। मौके पर मृत मिले जवानों की पहचान पिंटो नामग्याल भूटिया और इंद्रलाल छेत्री के रूप में हुई। वहीं, धनहंग सुब्बा नाम के जवान को घायल हालत में अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें भी मृत घोषित कर दिया।

कमांडर पिंटो 2012 में सिक्किम पुलिस में भर्ती हुए थे। वहीं सिपाही धनहंग सुब्बा और इंद्र लाल छेत्री साल 2013 में सिक्किम पुलिस में भर्ती हुए थे। पुलिस ने गोली चलाने वाले नायक प्रवीण राय को गिरफ्तार कर लिया है और उससे पूछताछ कर जांच कर रही है। वहीं, पुलिस मौके पर मृत दोनों जवानों और अस्पताल में मृत जवान के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मौके पर ही मौजूद गोली चलाने वाले जवान प्रवीण राय ने खुद को पुलिस के हवाले कर दिया। वह साल 2012 में सिक्किम पुलिस में भर्ती हुआ था।

navbharat times -Jammu Kashmir Jawan Suicide: ITBP के जवान ने 3 साथियों को गोली मारकर की आत्महत्या, 1 दिन पहले भी मारे गए थे दो जवान
पुलिस जांच में पता चला कि वारदात के समय ही जवान ड्यूटी ऑफ करके बैरक में पहुंचे थे। बैरक में कहासुनी होने पर उसने तीनों साथियों को गोली मार दी। आरोपी ने शुरुआती पूछताछ में आरोप लगाया कि साथी लोग उसे टॉर्चर करते थे। वह पहले से ही परेशान चल रहा था। जब बात हद से बाहर हो गई तो उसने गुस्से में आकर यह कदम उठाया। पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल इंसास राइफल को जब्त कर लिया है। इस प्लांट के बेहद नजदीक समयपुर बादली थाना है। इस वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी ने खुद थाने पहुंचकर पुलिस को मामले की सूचना दी। क्योंकि यह घटना केएन काटजू इलाके में हुई थी, इसलिए कॉल वहां ट्रांसफर कर दी गई। इसके बाद लोकल पुलिस, जिले की क्राइम टीम और फरेंसिक टीम ने घटनास्थल पर पहुंच जांच की और मामले से जुड़े साक्ष्य इकट्ठे किए। मृतकों के परिवारों को सूचना दे दी गई है।

Copy

दिल्ली की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Delhi News

Source link