गुडगाँव: देह व्यापार के आरोप में हुई महिलायें गिरफ्तार, अलग देशों से भी हैं महिलाएं शामिल

0

भारत में दिन ब दिन नए-नए कांड सुनने को मिलते हैं. रेप, बलात्कार,महिलाओं का शोषण जैसी खबरें तो रोज़ सुनायी पड़ती हैं. देश में कहीं भी स्त्रियाँ सुरक्षित नहीं है. लेकिन अगर महिलाएं ही किसी दुष्कर्म में आरोपी हैं तो क्या कहना? ऐसा ही कुछ मामला आजकल सुर्ख़ियों में हैं, जहाँ किसी कांड के लिए स्वयं महिलाएं जिम्मेदार हैं .

गुडगाँव के एक नामी-गिरामी मॉल में एक स्पा सेंटर में  देह व्यापार  चलाने का मामला सामने आया है. पुलिस ने देह व्यापार चलाने के आरोप में 9 महिलाओं को गिरफ्तार किया है. इनमें थाईलैंड की चार महिलाएं भी शामिल हैं. ख़बरों के अनुसार ये महिलाएं मसाज देने के नाम पर देह-व्यापार में शामिल थीं और एमजी रोड पर स्थित एमजीएफ मेगासिटी मॉल के नेचर स्पा में काम करती थीं.

जनसंपर्क अधिकारी रविंद्र कुमार ने बताया कि इस मामले की तहकीकात बहुत दिन से चल रही थी, पर गिरफ्तारी के लिए कोई कदम नहीं उठाया जा रहा था. मिलीं जानकारी के मुताबिक इस व्यापार की पूरी सूचना गुडगाँव के नामी-गिरामी मॉल के पास रह रहे किसी आदमी ने पुलिस को दी थी. सूचना बहुत ही गुप्त तरीके से दी गयी है.

सूचना मिलते ही एक पुलिस कांस्टेबल वहाँ ग्राहक के रूप में गया. रेसेप्शनिस्ट तथा ग्राहक बने कांस्टेबल के बीच 2500 रुपये में सौदा तय होने के बाद पुलिस की टीम ने वहां छापा मारा. इसके आद महिलाओं को गिरफ्तार किया गया.

सीनियर इंस्पेक्टर अमन कुमार का कहना है कि गुडगाँव में देह व्यापार करने वाली इन महिलाओं की उम्र 2० से 25 वर्ष के बीच है. बता दें की गिरफ्तार होने के बाद इन महिलाओं को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया, जहां से उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. उन पर कार्यवाही जारी है. आने वाली रिपोर्ट से ही पता चलेगा कि कोर्ट इन महिलाओं के खिलाफ क्या कदम उठाता है .

आखिर कहाँ-कहाँ फैला है ये जिस्मफरोशी का व्यापार? अगर कोई मजबूरी के तहत महिलाएं ऐसा करती हैं तो कब तक वो इस धंधे को करती रहेंगी? कितनी और लड़कियां इसका हिस्सा बनेंगी? हमारी सरकार देह व्यापार के इस मुद्दे को गंभीरता से लेगी भी कि नहीं?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty − 7 =