रघुराम राजन नें बीजेपी पर बोला हमला, जीएसटी और नोटबंदी नें विकास को रोका

0

आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन नें अर्थवयवस्था में ख़राब रफ़्तार के लिए नोटबंदी और जीएसटी को जिम्मेदार ठहराया है। राजन नें कहा की मौजूदा विकास दर देश की तरक्की के लिए काफी नहीं है।

दो झटकों ने विकास दर रोकी

आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन नें कहा की दो झटकों नें अर्थव्यवस्था की रफ़्तार रोक दी है। नोटबंदी और जीएसटी को सरकार नें ऐसे वक्त में लागू किया है, जब अर्थव्यवस्था को रफ़्तार की जरुरत थी। अगर सरकार नोटबंदी और जीएसटी को लागू नहीं करती तो अर्थव्यवस्था की रफ़्तार काफी अच्छी होती। लेकिन दो झटकों नें रफ़्तार को रोक दिया है।

पीएमओ पर भी साधा निशाना

रघुराम राजन नें अपने बयान में आगे कहा की पीएमओ परियोजनाओं में दख़लअंदाजी देता है। पीएमओ को राजन ने कहा कि भारत केंद्र से काम नहीं कर सकता है. भारत तब काम करता है जब कई लोग बोझ उठा रहे हों. आज के समय में केंद्र सरकार बेहद केंद्रीकृत है. उन्होंने कहा, इसका एक उदाहरण है कि बहुत सारे निर्णय के लिये प्रधानमंत्री कार्यालय की सहमति आवश्यक है।

भारत के सामने तीन बढ़ी दिक्कते है

रघुराम राजन नें भारत की तीन बढ़ी दिक्कतें गिनाई है। उन्होंने कहा की भारत को बुनियादी ढाचें पर बहुत ज्यादा ध्यान देने की जरुरत है। दूसरी दिक्कत रघुराम राजन नें गिनाई की अर्थव्यवस्था को बिजली की बहुत जरुरत होती है। खासतौर पर निर्माण के क्षेत्र में हमें सुनिशिचत करना होगा की देश में पुरे साल जितनी बिजली का उतपादन होगा उसका एक बड़ा हिस्सा अर्थव्यवस्था को हासिल हो ताकी विकास को हासिल किया जा सके। तीसरी दिक्कत उन्होंने गिनाई बैंकिग क्षेत्र की। रघुराम राजन नें कहा की बैंको के द्वारा दिए जाने वाले कर्ज़ को हमें साफ़ सुथरा बनाना होगा।