सरकारी बाबू की मनमानी, बदसलूकी और अभद्रता, डिजिलॉकर की वैधता के सवाल पर युवक के साथ की मारपीट, देखें वीडियो

0
Government-Officer
Government-Officer

वैसे तो सरकारी अधिकारी पर देश की जनता के कार्यों को जिम्मेदारी व संयम से करने का भार होता है। मगर कभी-कभी ये बाबू लोग अपना आपा खो बैठते हैं और लोगों पर गुस्सा उतारते हुए मारपीट करते हैं, जिससे सरकारी तंत्र की बदनामी होती है। एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां अहम पद पर आसीन एक अधिकारी ने अपनी शिकायत लेकर पहुंचे युवक के साथ अभद्रता करने के साथ-साथ मारपीट भी की।

सरकारी अफसरों की मनमानी का ताजा मामला दिल्ली से सटे गाजियाबाद का है। गाजियाबाद के पासपोर्ट सेवा केंद्र में असिस्टेंट पासपोर्ट ऑफिसर में जब अनमोल जैन नाम का व्यक्ति पहुंचा और उसने भारत सरकार की योजना डिजिलॉकर की वैधता को लेकर सवाल पूछा तो इस अधिकारी ने साफ तौर योजना की वैधता को नकार दिया। इसके बाद अनमोल के बार-बार सवाल पूछने से पासपोर्ट अधिकारी भड़क गया और युवक को गालियां देते हुए उसके साथ मारपीट करने लगा।

गाजियाबाद के सरकारी बाबू की यह करतूत कैमरे में कैद हो गई। कैमरे में कैद अधिकारी के कच्चे चिट्ठे की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। देखते ही देखते ही युवक के साथ सरकारी अधिकारी की बदसलूकी और मारपीट की इस वीडियो पर लोगों का गुस्सा भड़कने लगा। सोशल मीडिया यूजर्स ने इस घटना के लिए सरकारी बाबू और सरकारी तंत्र को कोसा। कईयों ने तो यहां तक कहा कि इस वीडियो को ट्विटर पर प्रधानमंत्री कार्यालय को टैग करते हुए अपलोड करना चाहिए। यहां बता दें कि भारत सरकार के परिवहन मंत्रालय द्वारा डिजिलॉकर को आधिकारिक वैधता दी गई है।

बहराल, दफ्तर के अंदर युवक के साथ दुर्व्यहार और मारपीट करने के मामले में संबंधित अधिकारी के खिलाफ प्रशासन की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं की गई है। योगी सरकार पर भी इस प्रकरण पर चुप है। इस पूरे मामले में अनमोल जैन ने ट्वीट करते हुए अपनी बात रखी और कहा, ”गाजियाबाद पासपोर्ट सेवा केंद्र के असिस्टेंट पासपोर्ट अधिकारी इस तरह बर्ताव करते हैं। इस अधिकारी ने मुझे पीटा और लहुलूहान कर दिया क्योंकि मैं डिजिलॉकर की वैधता को लेकर सवाल पर पूछ रहा था। अगर यही नया भारत है तो किसी को यहां नहीं रहना चाहिए।”

ये भी पढ़ें : महिला इतनी जोर से हंसी कि जबड़ा ही खुला रह गया, फिर जो…