Gautam Adani: कैसे 40 टन का एक्सपोर्टर बन गया देश का सबसे अमीर उद्योपति

28
Gautam Adani: कैसे 40 टन का एक्सपोर्टर बन गया देश का सबसे अमीर उद्योपति

Gautam Adani: कैसे 40 टन का एक्सपोर्टर बन गया देश का सबसे अमीर उद्योपति


नई दिल्ली: गौतम अडानी (Gautam Adani) आज भले ही दुनिया के टॉप 20 अमीरों की लिस्ट से बाहर हो गए हों, लेकिन बीते सालों में उनकी नेटवर्थ तेजी से बढ़ी है। एक समय ऐसा भी आया था जब कारोबारी गौतम अडानी (Gautam Adani) ने माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) के बिल गेट्स (Bill Gates) को भी पीछे छोड़ दिया था। गौतम अडानी दुनिया के अमीरों की लिस्ट में चौथे नंबर पर पहुंच गए थे। इसके बाद उन्होंने फ्रांस के दिग्गज कारोबारी बर्नार्ड आरनॉल्ट (Bernard Arnault) को पछाड़कर तीसरे स्थान भी हासिल किया था। अब ऐमजॉन (Amazon) के फाउंडर जेफ बेजोस (Jeff Bezos) के काफी करीब पहुंच गए थे। लेकिन क्या आपको पता है गौतम अडानी यूं ही देश के सबसे अमीर शख्स नहीं बन गए हैं। इसके लिए उन्होंने खूब संघर्ष भी किया है। गौतम अडानी ने अपनी जिंदगी में कुछ बातों का अमल हर हाल में किया था। आज आपको बताते हैं कैसे 40 टन का एक्सपोर्टर देश का सबसे अमीर उद्योपति बन गया। गौतम अडानी ने किस तरह से सफलता का मुकाम हासिल किया।

Gautam Adani: गौतम अडानी को लगा बड़ा झटका! अमीरों की लिस्ट में टॉप 20 से भी हुए बाहर, देखिए नई लिस्ट

साधारण परिवार में हुआ जन्म

गौतम अडानी की जिंदगी के किस्से किसी सपने से कम नहीं है। गौतम अडानी का जन्म एक साधारण गुजराती परिवार में हुआ था। परिवार की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी। एक ऐसा समय भी आया जब गौतम अडानी को अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़नी पड़ गई थी। अहमदाबाद में सेठ सीएन विद्यालय से अपनी स्कूल की शिक्षा पूरी करने के बाद उन्होंने गुजरात विश्वविद्यालय में वाणिज्य स्नातक की डिग्री के लिए एनरोल किया था। यहां उन्होंने दूसरे वर्ष में ही पढ़ाई छोड़ दी थी। इसके बाद गौतम अडानी ने खुद का कारोबार शुरू करने का निर्णय लिया था। अडानी के छह भाई-बहन थे। अडानी का परिवार अहमदाबाद के पोल इलाके की शेठ चॉल में रहता था, लेकिन वो हमेशा से कुछ बड़ा करने और सफल होने के सपने देखते थे। गौतम अडानी का कारोबारी सफर तब शुरू हुआ, जब वह गुजरात यूनिवर्सिटी से बीकॉम पूरा किए बिना मुंबई आ गए। उन्होंने डायमंड सॉर्टर के तौर पर शुरुआत की और कुछ ही सालों में मुंबई के झवेरी बाजार में खुद की डायमंड ब्रोकरेज फर्म शुरू कर दी। साल 1998 तक गौतम अडानी गुजरात के बड़े कारोबारी बन चुके थे। अपने बड़े भाई के प्लास्टिक के व्यवसाय से जुड़कर साल 1988 से 1992 के दौरान गौतम अडानी का इम्पोर्ट का कारोबार 100 टन से कई गुना बढ़कर 40 हज़ार टन पहुंच गया था। इसके बाद गौतम अडानी ने जल्द ही निर्यात में भी हाथ आज़माना शुरू कर दिया। इसके बाद वह बहुत जल्द बड़े एक्सपोर्टर बन गए, जो लगभग हर सामान का निर्यात करते थे। बाद में मुंद्रा पोर्ट से जुड़ने के बाद अडानी के कारोबार में बड़ा उछाल आया था।

इन बातों का हमेशा ध्यान रखते हैं गौतम अडानी

गौतम अडानी कुछ बातों का ध्यान हमेशा रखते हैं। कई मौकों पर उन्होंने इंटरव्यू के दौरान इन बातों का जिक्र किया भी है। गौतम अडानी बहुत बिजी रहते हैं। लेकिन तमाम व्यवस्थाओं के बावजूद वह खाना अपने परिवार के साथ ही करते हैं। गौतम अडानी के यहां नियम है कि तमाम व्यस्तताओं के बावजूद परिवार के सभी लोग ऑफिस में लंच की टेबल पर साथ बैठते हैं। अब वह दिग्गज कारोबारी हैं तो लंच की टेबल पर भी बिजनस के कुछ मुद्दों पर बात करते हैं और परिवार साथ मिलकर बड़ी आसानी से समस्या का हल निकाल लेता है। अडानी के कहते हैं कि व्यस्तता जीवन का अंग है, लेकिन परिवार के लिए समय निकालना भी जरूरी है। अडानी की जिंदगी में एक बड़ा भयावह किस्सा मुंबई के 2008 के आतंकी हमलों से जुड़ा है। 26 नवंबर 2008 को वह मुंबई के ताज होटल में डिनर करने गए थे, जब उस पर आतंकियों ने हमला कर दिया। आतंकियों ने 160 लोगों को मार दिया, लेकिन अडानी ने हिम्मत नहीं हारी और बचने में कामयाब रहे थे।

navbharat times -क्या गौतम अडानी ने अपनी कंपनियों का पैसा एक से निकालकर दूसरे में लगाया? जानिए क्या होती है राउंड ट्रिपिंग, पूरी डिटेल

प्राइवेट जेट से लेकर 17 शिप तक के हैं मालिक

गौतम अडानी की जिंदगी राजा-महाराजाओं से कम नहीं है। दुनिया की एक से बढ़कर एक लग्जरी कारों का कलेक्शन उनके पास है। वो प्राइवेट जेट से लेकर 17 शिप तक के मालिक हैं। आप उनकी पर्सनल लाइफ के बारे में जानकार हैरान हो जाएंगे। अडानी (Gautam Adani) के पास लग्जरी कारों से लेकर प्राइवेट जेट तक सबकुछ है। उनके इस कलेक्शन की लिस्ट बहुत लंबी है। अडानी ज्यादातर सफर अपने प्राइवेट जेट में ही करते हैं। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, उनके पास जो सबसे सस्ता प्राइवेट जेट है उसकी भी भारत में कीमत कीरब 15.2 करोड़ रुपये है। उन्होंने अपने कम दूरी के ट्रैवल के लिए हैलीकॉप्टर रखे हुए हैं। इसमें अगस्ता वेस्टलैंड AW139 हैलीकॉप्टर के अलावा दो और हैलीकॉप्टर भी शामिल हैं। उनके पास तीन आलीशान जेट विमान भी हैं। गौतम अडानी की लाइफस्टाइल राजा महाराजाओं से कम नहीं है। गौतम अडानी के पास प्राइवेट जेट और हैलीकॉप्टर के अलावा सुपर लग्जरी कारों का भी शानदार कलेक्शन है। गौतम अडानी के पास करीब 1.3 करोड़ रुपये की शानदार बीएमडब्ल्यू, 3.5 करोड़ रुपये की फरारी के अलावा कई सुपर लग्जरी कारें हैं। कार के साथ उनके पास 17 जहाज भी हैं। उन्होंने साल 2018 में जो दो नए जहाज खरीदे उनका नाम अपनी भतीजी के नाम पर रखा। जहाजों को खरीदकर वो अपने लॉजिस्टिक इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करते हैं।

राजनीति की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – राजनीति
News