दलित महिला ने गैंगरैप का किया विरोध तो कर दी पिटाई

0
women
दलित महिला ने गैंगरैप का किया विरोध तो कर दी पिटाई

उत्तर प्रदेश में अपराधों का ग्राफ बढ़ता ही जा रहा है. सरकार जहां महिलाओं और लड़कियों को लेकर काफी सेचत है वहीं दूसरी और अपराधी अपना काम बड़े ही असानी से करके फरार हो जाते है. और कभी-कभी तो पुलिस भी अपराधियों पर नकेल कसने में असफल हो जाती है.

पूरा मामला मुजफ्फरनगर के शामली जिले के अहाता गोस गढ़ के गांव का है. जहां पर चार लोगों ने 30 साल की एक दलित महिला के साथ रेप जैसी कथित घटना को अंजाम दिया है. इसी के साथ इस घटना की जानकारी पुलिस को शनिवार को दी गई थी. लेकिन इस घटना को अंजाम गुरूवार को ही दे दी गई थी.

ऐसा तब हुआ जब महिला शौच के लिए खेतों में गई थी. जब इसकी शिकायत पुलिस को की गई, तो पुलसि ने बताया कि आरोपी महिला को खीचकर गन्ने के खैत में ले गए और उस महिला के साथ सामूहिक बलात्कार किया है. हालांकि महिला ने इसका विरोध भी किया. परन्तु आरोपियों ने महिला के साथ ही मारपीट करना शुरू कर दिया.

यह भी पढ़ें : अपनी आबरू बचाने के लिए लड़की को अर्धनग्न हालत में पड़ा भागना

थानाभवन थाना प्रभारी संदीप बालियान ने बताया कि तीनों आरोपियों की पहचान सचिन, सोसिंग और रोहित के रूप में की गई है, लेकिन चौथे आरोपी की पहचान अभी तक नहीं हो पाई है. इसी के साथ उन्होंने यह भी कहा है कि पीड़िता के पति की तहरीर पर संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है और पीड़िता को चिकित्सीय परीक्षण के लिए भेज दिया गया है. पुलिस का दावा है कि इस मामले से संबंधित चौथे आरोपी को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएंगा.