1500 रूपये के लिए दो पक्षों में हुई झड़प, बेटे की गई जान

0

नई दिल्ली: जहां एक तरफ आए दिन लोगों को रेप केस और मर्डर जैसे वारदात की खबरें सुनने को मिलती है. वहीं कुछ इस प्रकार के वारदात भी है जिसे सुनकर आपको समाज के लोगों की सोच को लेकर हैरानी होगी. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के भारत नगर इलाके में एक ऐसी वारदात हुई जिसके कारण आस-पास के इलाकों में हड़कंप सी मच गई.

क्या है पूरा मसला

यहां घटना है राजधानी दिल्ली के भारत नगर इलाके के बुनकर कॉलोनी निवासी के एक परिवार के तीन सदस्यों पर कुछ लोगों ने चाकू से जमकर हमला किया है. जानकारी के अनुसार, महज़ 1500 रुपये के झगड़े में बीच बचाव करना परिवार के लिए इतना महंगा पड़ गया कि बेटे की मौके पर ही मौत हा गई. यह वारदात करीब 10 बजे वजीरपुर के जेजे कॉलोनी में हुई है.

दरअसल रोहित और रवि से विशाल अपने 1500 रूपये मांग रहा था. जिस बीच पैसो को लेकर दोनों पक्षों में जमकर झड़प हुई और झगड़ हुआ. जब इस घटना के बारे में विशाल के चचेरे भाई दीपक को पता लगा तो वह मौके पर पहुंचे और दोनों आरोपी को थप्पड़ मार कर झगड़े को शांत किया. इसके बाद सभी अपने-अपने घर को लौट गए. इसके बाद परिवार को ऐसा लगा की मामला ठंडा हो चुका है. लेकिन ऐसा नहीं था, पीड़ित परिवार ने अनुमान तक नहीं किया था कि महज़ 1500 रूपये के लिए उनको अपना परिवार का बेटा तक खोना पड़ेगा. पीड़ित परिवार ने कहा है कि विवाद शांत होने के थोड़ी देर बाद ही आरोपी रोहित व रवि अपने साथ करीब 15 से 20 लोग समेत बाइकों पर सवार होकर आए और चाकू से ताबड़तोड़ पूरे परिवार पर हमला कर दिया. इसके बाद सभी आरोपी वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए. आरोपी अपनी दो बाइकों को भी घटनास्थल पर छोड़ गए.

इस हमले में दीपक की मौत हो गई और माता-पिता काफी जख्मी हुए है. माता और पिता को दीपचंद बंधु अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बहरहाल दोनों की हालत काफी नाजुक है. जैसी ही इस घटना के बारे में पुलिस को पता चला तो उन्होंने आस-पास के इलाके में पुलिस तैनात कर दी है. पुलिस ने वारदात दर्ज कर ली है. पुलिस अब फरार आरोपियों की तलाश में जुटी है. बता दें कि आरोपी पीड़ित के पड़ोसी है. पीड़ित परिवार ने पुलिस पर मामले को लेकर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है.

चचेरे भाई विशाल का बयान

दीपक के चचेरे भाई विशाल ने बताया कि अगर पुलिस घटना के दौरान सही समय में आ जाती तो मेरे भाई की मौत नहीं होती. उन्होंने यह भी कहा कि करीब आधे घंटे से हम पीसीआर को फोन करके झगड़े की जानकारी देने की कोशिश कर रहें थे, पर पुलिस मौके पर सही वक्त में नहीं आई. उन्होंने बताया कि आरोपियों ने सिर पर ब्लेड से भी हमला किया. इस घटना में आरोपियों ने दीपक का कत्ल कर दिया और उसके माता-पिता को भी चाकू मारा. फिलहाल मृतक के माता-पिता अस्पताल में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहे हैं.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty − nineteen =