महाराष्ट्र और कर्नाटक में बारिश ने ढाया कहर, बचाव कार्य जारी

0
https://news4social.com/?p=54657

देश के सबसे ज्यादा सूखा ग्रस्त राज्यों में इस समय बाढ़ आयी हुई है। कर्नाटक और महाराष्ट्र के कई जिलों में पानी खतरे के ऊपर हो चुका है। आपको बता दें कि इन दोनों राज्यों में बारिश पिछले कई दिनों से हो रही है। दोनों ही राज्यों में करीब 2.5 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है।

इस बाढ़ से जान माल की काफी हानि हुई है। महाराष्ट्र में बारिश और बाढ़ से लगभग 16 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं कर्नाटक में अब तक 5 लोग काल के गाल में समा चुके हैं। सुरक्षा बलों ने राहत बचाव के तहत करीब 26,000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है।

महाराष्ट्र के कोल्हापुर, सांगली, रायगढ़ और पालघर जिलों में बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए भोजन, पेयजल और अन्य जरूरी सामानों की आपूर्ति के लिए महाराष्ट्र CMO द्वारा पर्याप्त इंतजाम करने का निर्देश दिया गया है। महाराष्ट्र सीएमओ ने कहा कि सांगली जिले से करीब 53 हजार लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है जबकि 11,432 लोगों को कोल्हापुर और रायगढ़ से 3,000 लोगों को बचाया गया है।

यह भी पढ़ें: देश के दो बुजुर्ग, मसाला किंग और आडवाणी सुषमा स्वराज के निधन पर हुए भावुक

वहीं कर्नाटक के कई हिस्सों में बाढ़ का कहर जारी है। बाढ़ की वजह से करीब 26,000 लोगों को उनके घरों से निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। पिछले तीन दिनों से हो रही बारिश से राज्य में 5 लोगों की जान जा चुकी है। कर्नाटक में बाढ़ की स्थिति काफी गंभीर है।

इन दोनों राज्यों में इस साल सूखा पड़ा हुआ था जिसकी वजह से दलहन की खेती काफी प्रभावित हुई थी। इसकी वजह से देश में दाल का दाम काफी बढ़ गया था।