जीएसटी के बाद पहली शॉपिंग का बिल बढ़ा ।

0
जीएसटी के बाद पहली शॉपिंग का बिल बढ़ा ।

1 जुलाई से हुए लागू वस्तु एवं सेवा कर का असर हर हिस्से पर पड़ा है और जीएसटी का यह असर पहले सप्ताह में ही दिखने लगा है । जीएसटी लागू होने से दिल्ली में उपभोक्ता के बिल में आधा फीसदी के करीब बढ़ोतरी देखी गई जबकि चेन्नई के उपभोक्ताओं के बिलों  में एक फीसदी की कमी दर्ज की गई जिससे एक फीसदी की बचत हुई ।

बिलो का ऐसे हुआ आंकलन
जीएसटी के पूर्व और उसके बाद पांच महानगरों में 71 जरूरी वस्तुओं की खरीदारी कर आंकलन किया गया । इस सूची में 47 वस्तुएं जीएसटी के दायरे में है । इसमें सभी वस्तुओं की एक निश्चित मात्रा में जीएसटी से पहले और इसके बाद खरीदारी की गई । पाया गया कि सबसे ज्यादा असर दिल्ली उपभोक्ताओं पर पड़ा है। जीएसटी के बाद दिल्ली के ग्राहकों का शॉपिंग बिल 0.44% बढ़ा, जबकि सबसे ज्यादा बचत चेन्नई के उपभोक्ताओं को हुई जो 0.91% के बराबर रहा ।

दाम घटाने का सिलसिला
जीएसटी के असर को उपभोक्ता तक पहुंचाने के लिए वाहन कंपनियों के दाम घटाने का सिलसिला जारी है । निसान ने अपने डैटसन ब्रांड समेत अन्य वाहनों की कीमतों में लगभग 3% की कटौती की है । इसके अलावा टाटा मोटर्स ने वाणिजियक वाहनों के दाम 8.2% तक घटाने की घोषणा की है ।

आर्थिक क्षेत्र को राहत

सरकार ने विशेष आर्थिक क्षेत्र को राहत देते हुए कंपनियों को आयातित वस्तुओं पर एकीकृत जीएसटी से छूट दी है । राजस्व विभाग ने एक अधिसूचना में कहा कि केंद्र आर्थिक क्षेत्र में लगी इकाइयों के आयातित वस्तुओं पर एकीकृत कर से छूट देती ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three × 3 =