रूस में आगाज हुआ फीफा वर्ल्ड कप का महाकुंभ, अब नेताओं पर भी चढ़ा फुटबॉल का फीवर

1

नई दिल्ली: फीफा फुटबॉल वर्ल्ड कप का आगाज आज से रूस में शुरू हो चुका है. इस महाकुंभ में करीब 32 टीम हिस्सा ले रहीं है. फुटबॉल वर्ल्ड कप का फीवर 15 जुलाई तक लोगों के सिर चढ़कर बोलेगा. इस विश्व कप में दुनियाभर के तमाम फुटबॉल प्रेमियों की नजरें टिकी हुई है. वैसे भी जितना क्रेज क्रिकेट को लेकर देश में देखने को मिलता है, उतना ही फुटबॉल को लेकर भी मिल रहा है. विश्व भर के दर्शकों को फीफा के शुरू होने का इंतजार था. जो फाइनली आज हो चुका है.

खेले जाएंगे 64 मैच

फीफा वर्ल्ड कप 2018 में 11 शहरों के 12 स्टेडियम पर 64 मैच खेले जाएंगे. इस बार फीफा वर्ल्ड टूर्नामेंट में दो अन्य टीम भी जुडी है, यह दो टीम है आइसलैंड और पनामा जो पहली बार इतने बड़े प्लेटफार्म में खेलने जा रहीं है. वर्ल्ड कप का फाइनल मुकाबला 15 जुलाई को मास्को के लुजनिका स्टेडियम में खेला जायेगा.

किन खिलाड़ियों पर दर्शकों की नजर

इस टूर्नामेंट में सभी दर्शक अपनी-अपनी टीमों और अपने -अपने पसंदीद खिलाड़ियों का समर्थन करते हुए नजर आने वाले है. फीफा फुटबॉल विश्व कप 2018 में सबसे ज्यादा निगाहें ब्राजील के नेमार, स्पेन के आइसको, जर्मनी के टोनी क्रूस, अर्जेंटीना के लियोनल मेस्सी और पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो पर नजरें रहेंगी.

यह भी पढ़ें: FIFA 2018: एक बार फिर से रोनाल्डो और मेसी में होगी टक्कर, जानिए कौन पड़ेगा किस पर भारी

कितनी टीम लेगी हिस्सा

फुटबॉल विश्व कप 2018 में टीमों को 8 ग्रुप में विभाजित किया गया है, जिसमें से कुल 32 टीमें हिस्सा लेगी. इन्हें चार-चार के आठ ग्रुप में बाँटा गया है. हर ग्रुप से दो-दो टीमें नॉकआउट राउंड में पहुंचेगी. ऐसा पहली बार है जब विश्व कप में विडियो रेफरल प्रणाली को अपनाया जा रहा है.

फीफा का बुखार नेताओं पर भी चढ़ा

वहीं फीफा का बुखार नेताओं पर भी साफ देखने को मिल रहा है. फुटबॉल की दीवानगी पश्चिम बंगाल के सिर चढ़ने लगी है तथा तृणमूल कांग्रेस, भाजपा, कांग्रेस और माकपा के नेता अपने रोजमर्रा के व्यस्त जीवन में से कुछ वक्त इस कार्यक्रम में अपनी पसंदीदा टीम और खिलाडियों के देखने के लिए निकाल रहीं है.

तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और खेल मंत्री अरूप बिश्वास ने कहा कि वह अपनी पसंदीदा टीम ब्राजील के सभी मैचों को देखेगी और साथ-साथ कुछ अन्य अच्छे मैचों को भी देखने की कोशिश करेगी. वहीं बिश्वास के सहकर्मी पार्था चटर्जी ने कहा कि वह कोशिश करेंगे की वो ज्यादा से ज्यादा मैचों देख पाए. चटर्जी ने आगे कहा मेरी पसंदीदा टीम भी ब्राजील है मैं उनके कोई भी मैच मिस नहीं करूंगा. लेकिन देर रात वाले मैच देखने से बचने की कोशिश करूंगा.

यह भी पढ़ें: रोनाल्डो और मेस्सी के बाद दुनिया में सबसे ज्यादा गोल करने वाले खिलाड़ी बने भारतीय फुटबॉल कप्तान सुनील छेत्री

वहीं भाजपा के नेता चाहे राजनीति जगत में कुछ कर रहे हो न हो पर मैच के लिए उनकी दीवानगी साफ दिख रहीं है. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने भी अपनी व्यस्त दिनचर्या से कुछ समय निकालने का वादा किया है, ताकि वह मैच का लुफ्त उठा सकें. वहीं पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राहुल सिन्हा ने कहा कि वह कुछ अच्छे मैच देखने की कोशिश करेंगे लेकिन कोई खास टीम उनकी पसंदीदा नहीं है. बता दें कि फीफा वर्ल्ड कप में सबसे पहला मैच मेजबान रूस और सऊदी अरब के बीच हुआ है.

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eleven + eight =