FIFA 2022: मैच के दौरान स्टेडियम में नहीं पी सकते शराब, ये पांच नियम तोड़ने पर मिलेगी कड़ी सजा | Fifa World Cup 2022 Qatar rules and law no alcohol during match Dos An | Patrika News

0
110


FIFA 2022: मैच के दौरान स्टेडियम में नहीं पी सकते शराब, ये पांच नियम तोड़ने पर मिलेगी कड़ी सजा | Fifa World Cup 2022 Qatar rules and law no alcohol during match Dos An | Patrika News

.हैया कार्ड
क़तर में अगर प्रवेश करना है तो इसके लिए यह कार्ड बेहद जरूरी है। हय्या कार्ड एक तरह का आईडी कार्ड होता है। इसके जरिए आप कतर में कहीं भी आ जा सकते हैं। ये कार्ड जिसके पास भी होगा वो लोग कतर और यहां के स्टेडियमों में जाने के साथ-साथ मैच वाले दिन मेट्रों और बसों में मुफ्त में यात्रा कर सकते हैं। इस कार्ड के होते हुए कतर में प्रवेश के लिए वीजा की जरूरत भी नहीं पड़ती।

बच्चों के पास भी हैय्या कार्ड होना चाहिए। हैय्या कार्ड धारक 23 जनवरी तक कतर में रह सकते हैं। इस कार्ड को बनने में 3 से 5 दिन का वक्त लगता है। इस हैया कार्ड के लिए फीफा के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर रजिस्टर करना होगा। रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया के दौरान लोगों को अपना विवरण भरना जिसमें कतर में रुकने की जानकारी के अलावा इमरजेंसी कॉन्टैक्ट आदि की जानकारी देनी होगी।

यह भी पढ़ें

मैसी ने अर्जेंटीना को नहीं, इन तीन देशों को बताया फीफा विश्व कप का प्रबल दावेदार

शराब पर बैन
कतर एक इस्लामिक देश है और बाकी अन्य इस्लामिक देशों की तरह यहां भी शराब पीना माना है। दुनियाभर से यहां आने वाले फुटबॉल प्रेमियों के लिए शराब को लेकर कुछ नियम बनाए गए हैं। यूरोप में फुटबॉल मैच के दौरान फैंस के हाथ में बीयर का ग्लास होना आम है लेकिन कतर में वह ऐसा नहीं कर पाएंगे।

फीफा वर्ल्ड कप के लिए कतर की सरकार ने शराब के लिए कुछ नियम तय किए हैं। आयोजकों ने कहा कि लाइसेंस प्राप्त रेस्टोरेंट और देश भर के कई होटलों में शराब परोसी जाती है और इसे निश्चित समय पर फैन जोन में भी उपलब्ध कराया जाएगा। लेकिन फैंस किसी भी पब्लिक प्लेस पर शराब नहीं पी सकते।

वहीं फैंस मैच शुरू होने से तीन घंटे पहले और खत्म होने के एक घंटे बाद ही बीयर खरीद सकेंगे। वहीं मैच के दौरान उन्हें शराब पीने की पाबंदी होगी। ऐसे में अगर किसी ने इस नियम को तोड़ने की कोशिश की तो उन्हें कड़ी सजा मिल सकती है।

कपड़े को लेकर पाबंदी
कतर में महिला और पुरुष दोनों के लिए कपड़ों को लेकर कुछ पाबंदियां लागू की गई है। यहां महिलाएं ऐसे कपड़े नहीं पहन सकती हैं, जो बॉडी को एक्सपोज करते हो। ऐसे कपड़े पहनने पर यहां जेल भेजने तक का नियम है। महिलाओं को यहां अपने कंधे से लेकर घुटने तक के शरीर को पूरी तरह से ढके रखना होगा।

इसके अलावा महिला टाइट फिटिंग कपड़े नहीं पहन सकेंगी। महिला और पुरुष दोनों घुटने से ऊपर के कपड़े भी वह नहीं पहन सकती है। उन्हें ऐसे कपड़े पहनने होंगे जो पैरों को पूरी तरह से ढकता हो। कतर में अगर विजिटर्स पहनावे को लेकर नियमों का उल्लंघन करते पाए गए तो उन्हें जेल भेजा जा सकता है।

यह भी पढ़ें

FIFA 2022: 29 दिन, 32 टीमें, 64 मुकाबले, 20 नवंबर से शुरू होगा फुटबॉल का महाकुंभ

शादीशुदा कपल को ही मिलेगा होटल
क़तर में सिर्फ शादीशुदा कपल ही एक साथ होटल में रुक सकते हैं। बिना शादीशुदा कपल को होटल रूम नहीं दिया जाएगा। क़तर में इस्लामी सरिया कानून लागू है। जिसके तहत सिगंल्स का आपस में सेक्स करना बड़ा अपराध है। कतर में शादी से पहले संबंध बनाना भी अपराध की श्रेणी में है। ऐसे में फुटबॉल वर्ल्ड कप देखने आने वाले फैंस को इन बातों का ध्यान रखना होगा।

समलैंगिकता अपराध है
कतर में समलैंगिकता अपराध है। भारत में सुप्रीम कोर्ट के द्वारा समलैंगिकता को मान्यता दे दी गई है। लेकिन कतर में यह गैरकानूनी है। ऐसे अपराधों के लिए विदेशी नागरिकों को भी 7 साल की जेल हो सकती है। जब फीफा वर्ल्ड कप की मेजबानी दी गई थी तो उसी समय कुछ खिलाड़ियों ने समलैंगिक फैंस को लेकर चिंता जाहिर की थी।

हालांकि आयोजकों ने कहा था समलैंगिकता से कोई परेशानी नहीं है लेकिन हाल ही में फीफा वर्ल्ड के एंबेसडर खालिद सलमान ने अपने एक बयान में कहा कि समलैंगिकता एक मानसिक बीमारी और यहां आने वाले सभी व्यक्ति पर कतर का कानून लागू होगा। ऐसे में समलैंगिक फुटबॉल फैंस को इन बातों का ध्यान रखना होगा।





Source link