Eknath Shinde: गुवाहाटी में CM शिंदे संग नहीं गए 4 मंत्री और 2 विधायक, नाराजगी या फिर कोई और वजह? जानिए

0
138

Eknath Shinde: गुवाहाटी में CM शिंदे संग नहीं गए 4 मंत्री और 2 विधायक, नाराजगी या फिर कोई और वजह? जानिए

मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) की सत्ता बदलने में गुवाहाटी का मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उनके विधायकों के लिए एक अहम स्थान रहा है। सत्ता परिवर्तन के बाद एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) दोबारा अपने तमाम समर्थक विधायकों, सांसदों और उनके परिजनों के साथ गुवाहाटी में कामाख्या देवी माता (Kamakhya Devi Temple) के दर्शन और पूजा अर्चना के लिए गए हुए हैं। मुख्यमंत्री के इस गुवाहाटी (Guwahati) दौरे में उनके सभी सांसदों और विधायकों के जाने की बात काफी दिनों से कहीं जा रही थी। इस दौरे के पीछे देर होने की एक वजह यही थी कि सभी लोगों को साथ लेकर सीएम गुवाहाटी जाना चाहते थे। बावजूद इसके शिंदे के गुवाहाटी दौरे में चार मंत्री और दो विधायक नहीं आए हैं। मंत्रियों और विधायकों के नदारद होने के बाद महाराष्ट्र की सियासत में एक बार फिर से एकनाथ शिंदे गुट (Eknath Shinde Faction) में नाराजगी की अटकलें सामने आने लगी हैं।

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने आज गुवाहाटी में कामाख्या देवी के दर्शन किये। सीएम के गुवाहाटी पहुंचने पर उनका और उनके साथ गए सभी लोगों का भव्य स्वागत भी किया गया। हालांकि, इस दौरे में मंत्री गुलाबराव पाटिल, मंत्री शंभूराज देसाई, मंत्री अब्दुल सत्तार, मंत्री तानाजी सावंत, विधायक चंद्रकांत पाटिल और महेश शिंदे गायब रहे।

क्यों नहीं गए मंत्री और विधायक?
मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के साथ गुवाहाटी न जाने पर चारों मंत्री और दोनों विधायकों ने अपनी सफाई पेश की है। विधायक चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि मेरी इच्छा थी कि गुवाहाटी में जाकर मां कामाख्या देवी के दर्शन करूं लेकिन ग्रामीण क्षेत्र में कई शादी के कार्यक्रम थे। जहां मेरी उपस्थिति होना बेहद जरूरी था। इस वजह से मैं गुवाहाटी नहीं जा पाया। मंत्री गुलाबराव पाटिल ने बताया कि उनके इलाके में स्थानीय चुनाव होने हैं। इस बारे में मैंने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे को भी बताया था। साथ ही उन्हें विनती कर गुवाहाटी आ पाने में अपनी असमर्थता जताई थी। मंत्री अब्दुल सत्तार ने बताया कि नासिक जिले में उनके पहले से कार्यक्रम तय थे, जहां उनकी मौजूदगी जरूरी थी। सत्तार ने भी यह बात सीएम शिंदे को बताई थी।

एकतरफ जहां शिंदे गुट के विधायकों और मंत्रियों की नाराजगी की खबरें सामने आ रही हैं वहीं दूसरी तरफ उद्धव ठाकरे गुट की तरफ से एकनाथ शिंदे की गुवाहाटी दौरे पर तंज कसा गया है। ठाकरे गुट की तरफ से यह सवाल किया गया है कि क्या महाराष्ट्र में भगवान की कमी है जो मुख्यमंत्री गुवाहाटी के दौरे पर गए हैं। यह सवाल सांसद संजय राउत ने किया है।

सीएम के गुवाहाटी दौरे की जांच की मांग
मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के साथ विशेष चार्टर्ड प्लेन से उनके विधायक, सांसद और मंत्रियों के परिजन समेत 180 लोग गुवाहाटी में मां कामाख्या देवी के दर्शन के लिए गए हैं। अब सीएम के दौरे पर समाज सेविका अंजली दमानिया ने यह सवाल उठाया है। दमानिया ने ट्वीट करते हुए यह सवाल किया है कि मुख्यमंत्री चार्टर्ड प्लेन से अपने सहयोगियों के साथ गुवाहाटी गए। वहां वह पांच सितारा होटल रेडिसन ब्लू में सभी सहयोगियों के साथ ठहरे हुए हैं। इस पूरे दौरे पर खर्च होने वाली रकम आखिर कहां से आई है।

राजनीति की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – राजनीति
News