लकड़ावाला की गिरफ्तारी के बाद पुलिस को दाऊद के पता लगाने की उम्मीद

0
एजाज लकड़ावाला
एजाज लकड़ावाला

कभी दाऊद इब्राहिम के लिए काम करने वाले एजाज लकड़ावाला को पुलिस ने नेपाल से गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तारी एक बड़ी सफलता थी क्योंकि पुलिस को उम्मीद है कि उससे उसके पूर्व बॉस दाऊद इब्राहिम की गतिविधियों के बारे में और जानकारी मिल सकती है।

लकड़ावाला नेपाल और भारत बॉर्डर पर रह रहा था। उसके खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया गया था।

एजाज शादीशुदा है। उसके एक बेटा और एक बेटी है। वह मुंबई के माहिम में पला बढ़ा और एक कॉन्वेंट स्कूल में पढाई की। लकड़ावाला जब पहली बार गिरफ्तार हुआ था तब वह 8 वीं कक्षा में था। उसने एक छात्र पर कम्पास से हमला किया और फिर उसे एक जुवेनाइल हॉउस में भेज दिया गया।

1980 में अंडरवर्ल्ड के संपर्क में एजाज आया और फिर D कंपनी में शामिल हो गया। इसके बाद फिर वह डी-गैंग से अलग हो गया और छोटा राजन की गैंग में शामिल हो गया। 1994 में उसे गिरफ्तार कर लिया गया, लेकिन जमानत के बाद वह देश छोड़कर भाग गया।

यह भी पढ़ें: बच्चों का पेट भरने के लिए विधवा ने सिर मुंडवाकर बेचे बाल

2001 में राजन के साथ संबंध तोड़ने के बाद 2001 से वह स्वतंत्र रूप से काम कर रहा था। 2002 में डी-गैंग ने बैंकाक में उसे मारने की सुपारी दे दी लेकिन 7 गोलियां लगने के बावजूद वह बच गया।

मुंबई पुलिस के सूत्रों का कहना है कि उसकी गिरफ़्तारी बहुत बेशकीमती है। उसके पास अंडरवर्ल्ड की बहुत सारी जानकारी है और मुंबई में डी गिरोह के संचालन से अच्छी तरह वाकिफ है।