‘दुर्गा पूजा में मैं बंगाल रहूंगा, देखता हूं कौन रोकता है व‍िसर्जन’- द‍िल्‍ली भाजपा प्रवक्‍ता की ममता को बड़ी चुनौती

0

दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता तेजिंदर बग्गा ने ट्वीट किया है कि, दुर्गा पूजा में मैं बंगाल में रहूंगा, देखता हूं कौन मां दुर्गा के मूर्ति वसर्जन को रोकता है। दरअसल ममता बनर्जी ने पिछले साल की तरह इस साल भी विजयादशमी के अगले दिन दुर्गा प्रतिमाओं के विसर्जन पर पाबंदी लगा दी है। ये पाबंदी मुहर्रम के जुलूस को ध्यान में रखते हुए लगाई गई है। विजयादशमी का त्योहार 30 सितंबर को है जबकि एक अक्टूबर को मुहर्रम है। इसलिए ममता बनर्जी ने आदेश दिया है कि विजयादशमी को शाम 6 बजे के बाद प्रतिमाओं का विसर्जन नहीं किया जा सकेगा।

इस ट्वीट के बाद लोगों ने ट्विटर पर बग्गा की साथ देने की बात कही है। @SpandanBeats ने लिखा है कि बग्गा भाई मैं भी चल रहा हूं। @Babujimenon ने लिखा कि ममता बनर्जी के इस फतवे को लोगों को चुनौती देनी चाहिए। बंगाल के हिंदुओं को इस जिहादी तुष्टीकरण के खिलाफ विद्रोह करना चाहिए। @sannojam ने लिखा कि बग्गा जी ने तो ताल ठोक दी है, पर दूसरों को सांप सूंघ गया है क्या। @beingbajpaiji ने लिखा की भाई तुम अकेले नहीं हो। @Abhijeet_Dalavi ने लिखा कि तेजिंदर जी आपका गुस्सा समझ सकते हैं पर कानून व्यवस्था भी कोई चीज होती है। दूसरा जब तक वहां के लोग नहीं समझ जाते तब तक कोई फायदा नहीं। साथ ही लिखा कि बड़ा भाषण देने से पहले अपनी हिम्मत भी तोल लेना।

@vsanganeria96 ने लिखा कि बीजेपी का कोई भी नेता यहां ममता बनर्जी का विरोध नहीं करता है। अमित शाह से कहिए कि यहां ऐसे नेता भेजें जो ममता बांग्लादेशी का विरोध कर सकें। @AlkaKhan7 ने लिखा कि मूर्तिविसृजन तो हो कर रहेगा। चाहे शांति से हो या क्रांति से। @ErRamanGambhir ने लिखा कि सिखों ने पहले भी सनातन धर्म की रक्षा की थी, और आज भी कर रहे है, धन्यवाद बग्गा जी, वाहेगुरू जी दा ख़ालसा, वाहेगुरू जी दी फतह, जय माता दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

ten + thirteen =