दुबई में चल रही है ऑटोनॉमस फ़्लाइंग टैक्सी की टेस्ट

0

दुबई एक प्रगत शहर है जहा दुनिया की हर एक चीज आपको मिलेगी | बुर्ज खलीफा दुनिया की सबसे बड़ी ईमारत दुबई में है | वहा की हर एक चीज में अत्याधुनिक टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल हुआ है | दुबई ने समंदर में कृत्रिम द्वीपसमूह बनाये है | जिनमे पाम झुमेरा और पाम दिएरा जैसे द्वीपसमूह शामिल है |

अब दुबई टेक्नोलॉजी की दुनिया में और एक नया कदम रखने जा रहा है | दुबई ने सेल्फ ड्राइविंग टैक्सी का परिक्षण करना शुरू कर दिया है | दुबई में हर साल दुनिया भर से करोडो लोग घूमने के लिए आते है | दुबई पुरे विश्व में पर्यटन के लिए लोगो की पहली पसदींदा जगह है | इसलिए यहा बहार से आने वाले लोगो को घूमने में या एक जगह से दूसरी जगह जाने में कोई दिक्कत न हो इसलिए यह फ़्लाइंग टैक्सी दुबई जैसे शहर के पर्यटन के लिए जरुरी साबित होगी |

इस टैक्सी को ऑटोनॉमस एयर टैक्सी नाम दिया गया है | ये टैक्सी जर्मन की कंपनी वोलोकॉप्टर ने दुबई को दी है | इस टैक्सी की रफ़्तार 100 kmph इतनी होगी और ये 1,000 फिट की ऊंचाई तक उड़ पायेगी |

साथ ही दुबई ने अमेरिका की कंपनी जो हाइपरलूप बनाती है उसके साथ भी एक करार किया है | दुबई में भी जल्द ही हाइपरलूप का परिक्षण शुरू हो सकता है | 2030 के बाद दुबई जाने वालो की संख्या दुगनी हो जाएगी और तब हाइपरलूप और ऑटोनॉमस टैक्सी जैसे विकल्प दुबई पर्यटन के लिए काम आएंगे |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fourteen + 1 =