डॉलर के मुकाबले रूपया कमजोर

0

अमेरिकी केंद्रीय बैंक ने ब्याज दरों को स्थिर रखने का फैसला लिया है. जिसके बाद डॉलर में मजबूती आई है. जिससे दुनिया की छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले डॉलर इंडेक्स में बीते दो सत्रों से बढ़त दर्ज की गई.

डॉलर के मुकाबले रुपये में शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में हल्की कमजोरी रही. बता दें कि पिछले सत्र के मुकाबले करीब छह पैसे की कमजोरी के साथ भारतीय मुद्रा का भाव 69.41 रुपये प्रति डॉलर बना हुआ था. जबकि इससे पहले रुपया 69.39 पर खुला था. अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल और सोने के दामों में आई गिरावट के चलते रुपया डॉलर के मुकाबले मजबूत हुआ है.

तेल और सोने के आयात के लिए भारत को डॉलर की काफी जरूरत होती है ऐसे में बुलियन निविदा और कच्चे तेल के दामों में नरमी से डॉलर की मांग कम होती है जिससे कारण देसी मुद्रा को साहायता मिलती हैॆ.

अमेरिकी केंद्रीय बैंक द्वारा ब्याज दरों को स्थिर रखने के फैसले के बाद डॉलर में मजबूती आई है जिसके चलते दुनिया की छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले डॉलर की ताकत का सूचक डॉलर इंडेक्स में बीते दो सत्रों से बढ़त दर्ज की गई. हालांकि, डॉलर इंडेक्स में फिर ठहराव आ गया है. डॉलर इंडेक्स शुक्रवार को पिछले सत्र के 0.02 फीसदी फिसल कर 97.57 पर बना हुआ था.