इस स्वतंत्रता दिवस पर ले ये काम करने की प्रतिज्ञा, देश की तरक्की में होगा आपका योगदान

0

भारत अपना 72 वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा हैं। आज़ादी की ये खुशबू भारत नें पहली बार सन 1947 में महसूस की थी। हर भारतीय अच्छे से जानता है की इस आज़ादी को पाने के लिए कितने लोगों नें अपनी कुर्बानी दी थी। आंदोलन से लेकर लोगों नें अपने खून और पसीने से देश को आज़ाद करने के लिए अपना योगदान दिया। आज आधुनिक पटरी पर दौडते भारत में लोग अलग-अलग तरह से देश को मजबूत बनाने में अपना योगदान दे रहे हैं। कोई टेक्स दे रहा हैं, कोई सेना में शामिल हो कर योगदान दे रहा है। लेकिन आज हम आपको बताते है की वो चीज़ें जिन्हें आप बड़ी आसानी से करके देश की तरक्की में अपना योगदान दे सकते हैं।

अपने आस-पास गंदगी न फैलाए

हम सभी जानते है की गंदगी से आज देश का हर निवासी परेशान हैं। अपने आस-पास के इलाके और शहरों को साफ़ सुथरा बनाएं रखने के लिए प्रधानमंत्री नें स्वच्छ भारत अभियान की नींव रखी ताकि देश को गंदगी से मुक्त किया जा सके। अगर आप अपने आस-पास की जगहों को साफ़ रखते है तो इससे न केवल गंदगी साफ़ होगी बल्कि देश की तरक्की में आपका योगदान भी गिना जाएगा।

 

 

समाज में हिंसा का माहौल न बनाए

एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते आपको समाज में हमेशा भाई चारे का माहौल बनाए रखना चाहिए। आपको किसी भी ऐसी चीज को बढ़ावा नहीं देना चाहिए जो चीजे समाज में हिंसा को जन्म दें। दुनिया जानती  है की जिस देश में धर्म, जात और राजनीतिक रुप से हिंसा होती है वह देश कभी भी तरक्की नहीं कर सकता हैं। इसलिए हमेशा एक ज़िम्मेदार नागरिक होने के नाते समाज में प्यार बढाएँ।

 

रिसर्च और डेवलपमेंट पर काम करें

आज देश को तरक्की करने के लिए जितनी आर्थिक मदद की ज़रुरत है उतनी ही नई तकनीक और नई सोच की भी ज़रुरत हैं। हम सब जानते है की दुनिया में जितने भी मुल्कों नें तरक्की की हैं उन्होंने सबसे पहले रिसर्च पर ध्यान दिया। खोजी सोच पर ध्यान देने के बाद विकसित मुल्कों नें बाद में उस सोच को हकीकत में बदल कर अपने मुल्कों की किसमत बदल डाली। कंप्यूटर, विकसित मशीनें, इंटरनेट ये सभी चीजें इंसान नें अपनी रिसर्च से हासिल किया हैं। आज भारत को भी इसी सोच की ज़रुरत हैं, ताकि देश तेजी से तरक्की कर सके।

 

अशिक्षित बच्चों को शिक्षा दें

अपने खाली वक्त में आप अशिक्षित बच्चों को शिक्षित करें, जो बच्चे स्कूल जाने से वंचित रह जाते है आप उन्हें शिक्षित कर के देश की तरक्की में अपना योगदान दे सकते हैं।

 

खाना वेस्ट न करें

खाना एक ऐसी चीज है जिसकी ज़रुरत हर इंसान को होती हैं। अगर आप नें भर पेट खाना खा लिया है तो इसका मतलब यह नहीं है की बाकी बचे खाने को आप फेंक दे। बचे हुए खाने को आप ग़रीब लोगों और ज़रुरतमंदों को खिलाकर समाज में अपना योगदान दे सकते हैं।

 

अपने वोट का सही इस्तेमाल करें

देश में स्वच्छ राजनीतिक माहौल बनाने के लिए आपको अपने वोट का सही इस्तेमाल करना चाहिए। हमेशा उस पार्टी को ही वोट दें जिस पार्टी का राजनीतिक दामन साफ़ सुथरा हों, जिस उम्मीदवार को देखकर आपको लगे की वह एक ईमानदार राजनेता हैं।

 

सरकारी संपत्ति को नुकसान न पहुँचाएँ

बहुत से लोग आंदोलन की आड में आकर सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुँचाते हैं। लेकिन वे ये भूल जाते है की जितना नुकसान वे करते है उतने ही नुकसान की भरपाई बाद में समाज के हर नागरिक को देने पडती है। इसलिए कभी भी सरकारी संपत्ति को नुकसान न पहुँचाए

 

अपने पर्यावरण की रक्षा करें

पर्यावरण समाज के लिए ही नहीं बल्कि आपके लिए भी बहुत महत्तवपूर्ण है इसलिए हफ्ते में कम से कम एक बार एक पौधा ज़रुर लगाएं।

 

अश्लील भाषा का इस्तेमाल न करें

आधुनिक भारत आज तरक्की की पटरी पर तो सवार है लेकिन आधुनिकता की चकाचौंद में लोगों की भाषा में भारी गिरावट आ रहीं हैं। लोग घरेलु स्तर पर तो अश्लील भाषा का इस्तेमाल करते ही है लेकिन अब सार्वजनिक जगहों पर भी लोगों की भाषा की गरिमा ख़त्म होती जा रहीं हैं। इसलिए हमेशा अच्छी भाषा का इस्तेमाल करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

11 − nine =