मृतक के परिजनों से DM ने की बदसलूकी देखिए VIDEO

0
DM
मृतक के परिजनों से DM ने की बदसलूकी देखिए VIDEO

उत्तर प्रदेश के अमेठी जिले में जिलाधिकारी के अभ्रद व्यवहार करने का वीडियो सोशल मीडिया पर जोरों से वायरल हो रहा है. मामला अमेठी के मृतक परिजनों का है जहां पर मृतक के परिजनों ने पुलिस की लापरवाही को जिलाअधिकारी को बता रहे है कि जिसपर जिलाधिकारी का अभद्र रवैया साफ सामने नजर आ रहा है.

वहीं दूसरी और स्थानीय लोगों ने प्रशासन की संवेदनहीनता पर नाराजगी जताते हुए कहा है कि वायरल वीडियो में जिलाधिकारी प्रशांत शर्मा आक्रोशित भीड़ के बीच मृतक सोनू सिंह के चचेरे भाई एवं पीसीएस अधिकारी सुनील सिंह का कॉलर पकड़कर खींचते हुए दिखाई दे रहें हैं. बता दें कि सोनू सिंह की मंगलवार देर शाम गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.

गौरीगंज कोतवाली से महज 700 मीटर की दूरी पर मुसाफिरखाना रोड के नहर पुलिया के पास अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया था. इस वीडियो में जिलाधिकारी कहते दिखाई दे रहे है कि ‘रात भर से मेरे वरिष्ठ अधिकारी लगे हुए हैं. हम कोई भगवान तो है नहीं जो हर त्रासदी को रोक सकें. आप हमारी जगह पर होते तो क्या करते, क्या मर्डर रोक लेते. आप यही तो कहते कि रोकना तो किसी के हाथ में नहीं है.’

DM प्रशांत शर्मा जी, ये एक मृतक का भाई है, थोड़ा जज्बाती होना लाजमी है। आपने इस गरीब का नहीं, समूचे लोकतंत्र का कॉलर पकड़ कर घसीटा है। जिस संविधान की शपथ ली उसका ही अपमान किया है। मैं @myogiadityanath से अनुरोध करूँगा कि अमेठी DM तत्काल निलंबित किए जाएँ। @ChiefSecyUP pic.twitter.com/lYbdnX4rHV— Vedank Singh (@VedankSingh) November 13, 2019

जिलाधिकारी ने कहा कि आप यही करते न जो दोषी है उस पर कार्यवाही. अगर आपने अपराधि को पहचान लिया है तो बात दीजिए, अगर नहीं तो हम हर ताकत लगा देंगे और जिन आरोपियों को पुलिस ने पहचान लिया है उनके नाम पुलिस ने बता दिया है. क्या आपको किसी ने यह कहा है कि हम कर्यवाही नहीं करेंगे आपको जो करना है करों.

तब तक सोनू के बड़े भाई ने बताया कि जहां घटना घटित हुई थी वहां पर थोड़ी दूर पर ही डायल 100 पुलिस खड़ी थी. अगर चाहती तो वह पकड़ सकती थी. गोली चल रही थी. चार पांच राउंड गोली चली. इसके बावजूद उन लोगों ने पकड़ने का प्रयास नहीं किया.

तब जिलाधिकारी ने कहा कि ‘आपने उन लोगों का नाम दे दिया है ना, पकड़ में आ जाएंगे. आप यह बताइए कि इस समय हम खड़े हैं. इस जिले का सबसे वरिष्ठ अधिकारी यहां पर खड़ा हुआ है. इतने सारे लोग खड़े हुए हैं. क्या आपको पता है? कि उस आदमी के पास कट्टा है. पता है कि नहीं, पता है, पता है, उसके पास है कि नहीं?’

यह भी पढ़ें : जाने कैसे उठा सकते है UP के बसों में डेबिट-क्रेडिट कार्ड-पेटीएम का लाभ !

वीडियो में साफ दिख रहा है कि इसके बाद जिलाधिकारी मृतक के बड़े भाई सुनील का पहले हाथ पकड़े और बाद में शर्ट पकड़ते हुए घसीट कर आगे ले गए और पूछते रहे पता है कि नहीं पता है? इस पर वहां खड़े लोगों ने विरोध जताया कि आराम से बात करिए. ऐसे बात किया जाता है? तब जिलाधिकारी ने कहा पीछे रहो, पीछे रहो, आगे मत आओ. जब दूसरे लोग बोलने लगे तब उन्होंने कहा कि आप से बात नहीं हो रही है. जब इन से हम बात कर ले तब आपसे बात करेंगे.