दिल्ली मेट्रो की अजीब और गरीब कहानियां।

0
Delhi Metro
Delhi Metro

दिल्ली वैसे तो दिल वालो की है और बहुत सी चीज़ें है दिल्ली में जो लोगो को पसंद है जैसे कनॉट प्लेस, हौज़ ख़ास, हुमायूँ का मकबरा, कुतुभ मीनार, और बहुत सी चीज़ें,

लेकिन कुछ खासियत ऐसी है की आप सुनना पसंद करेंगे जैसे दिल्ली मेट्रो,
हमारे दिल्ली में दिल्ली मेट्रो में जो ख़ास बात है वो और कहीं मिलनी थोड़ी मुश्किल है,
दिल्ली मेट्रो का लेडीज कोच,
दिल्ली मेट्रो में सबसे ज़्यादा चर्चा में रहता है लेडीज कोच, वहां लड़को या आदमी के घुसने पर प्रतिबन्ध लगा हुआ है लेकिन ज़्यादातर आदमी आपको लेडीज कोच के कार्नर पर मिलेंगे, पुलिस कर्मी जबतक आकर उनको अपने अपने कोच में जाने को ना बोले तब तक वे कैसे जा सकते है बहरहाल ‘यह दिल्ली है मेरी जान’

 

मेट्रो के दरवाज़े से हटकर खड़े रहे,
यह घोषणा तो जैसे तोड़ने के लिए ही है, लोग दरवाज़े पर ही खड़े होंगे वो भी चिपक कर, न तो लोगो को आने दिया जाता है और न ही निकलने दिया जाता, अगर हटने को बोल दो तो लोग ऐसे देखते है जैसे हमने उनसे कोई क्राइम करने को बोल दिया हो।

delhi
delhi metro

कृपा मेट्रो के फर्श पर न बैठे,
मेट्रो में निचे बैठने को लोग काफी cool समझते है, लेकिन इसकी घोषणा बार बार की जाती है की कृपा मेट्रो के फर्श पर न बैठे, लेकिन अगर सारी घोषणाएं हमने मान ली तो हम दिल्ली वाले कैसे कहलायेंगे।

delhi
delhi metro

कुछ भी के लीजिये लेकिन ‘यह दिल्ली है मेरी जान , बस इश्क़ मोहब्बत प्यार’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

sixteen + eighteen =