अंजना ओम कश्यप और अलका लांबा के बीच रेप पीड़िता के नाम को लेकर हुई बहस, ट्विटर पर चला #shameOnAajTak और #ShameOnAnjana हैशटैग

0
अंजना ओम कश्यप और अलका लांबा
अंजना ओम कश्यप और अलका लांबा

पिछले सप्ताह तेलंगाना में सामूहिक बलात्कार और हत्या का शिकार होने वाली पीड़ित महिला का नाम का इस्तेमाल करने से बचने के लिए पूछे जाने पर आजतक टीवी पर जारी बहस पर कांग्रेस नेता अलका लांबा ने काफी हंगामा किया।

सुप्रीम कोर्ट द्वारा जारी दिशानिर्देश, अदालतों, पुलिस, सरकार, मीडिया और अन्य सार्वजनिक प्राधिकरणों और संगठनों को उन महिलाओं के नाम का उपयोग नहीं करना चाहिए जो बलात्कार का शिकार हुई हैं।

यह एक नियम है। नाम तभी लिया जा सकता है जब संबंधित अदालत पीड़ित के नाम को सार्वजनिक रूप से जारी करने की अनुमति देती है।

मंगलवार शाम को आजतक टीवी ने पिछले सप्ताह तेलंगाना में 20 के दशक के मध्य में एक महिला के साथ सामूहिक बलात्कार और उसकी हत्या पर एक डिबेट शो की मेजबानी की। इस डिबेट में आप पार्टी छोड़ कांग्रेस में शामिल हुई नेता अलका लांबा भी थी।

जब दर्शकों में से एक ने तेलंगाना बलात्कार और हत्या पीड़िता के नाम का भी इस्तेमाल किया, तो कश्यप ने बहस में मौजूद सभी लोगों से स्थानीय प्रशासन द्वारा जारी विशिष्ट दिशानिर्देशों और सुप्रीम कोर्ट द्वारा जारी किए गए सामान्य दिशानिर्देशों के अनुसार महिला के नाम का उपयोग करने से परहेज करने के लिए कहा।

डिबेट के दौरान कांग्रेस नेता अलका लांबा ने हैदराबाद में पीड़ित महिला के नाम लिया। इसके बाद अंजना ओम कश्यप ने अलका को नियम याद दिलाया। जिस पर अलका ने अंजना को एक विशेष पार्टी का एजेंडा चलाने की बाद की।

कश्यप ने खासतौर पर अलका लांबा से अनुरोध किया था कि वह नाम का इस्तेमाल करने से बचें, जैसा कि उन्होंने बहस में पहले किया था। इससे लांबा ने एंकर पर “एजेंडा” रखने का आरोप लगाया और फिर दावा किया कि उसने कभी भी महिला के नाम का इस्तेमाल नहीं किया। बहस होने के बाद अलका जय हिन्द बोलते से डिबेट से चली गयी।

यह भी पढ़ें-कांग्रेस ने सदन में चीन को लेकर सरकार के नरम रवैये पर उठाए सवाल

हालांकि सोशल मीडिया पर जो क्लिप वायरल हो रही है उसमे अलका लाम्बा पीड़िता का नाम लेती हुई नज़र आ रही है।

इस मामले पर ट्विटर पर आजतक और उनकी एंकर अंजना ओम कश्यप को लेकर दो हैशटैग ट्रेंड किया। #shameOnAajTak और #ShameOnAnjana .