गुनीत मोंगा की शादी के कार्ड पर DDLJ वाली ट्रेन भी! शाहरुख की दीवानी अपने ‘राज’ से रचा रहीं ब्याह

0
161

गुनीत मोंगा की शादी के कार्ड पर DDLJ वाली ट्रेन भी! शाहरुख की दीवानी अपने ‘राज’ से रचा रहीं ब्याह

90 के दशक में बड़े हुए किसी के लिए ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ रोमांस का प्रतीक बना हुआ था। फिल्म जिसने रिकॉर्ड तोड़ दिया है और अभी भी मुंबई में फेमस मराठा मंदिर थिएटर में रोज़ाना एक मैटिनी शो होता है। साहरुख और काजोल की इस रोमांटि फिल्म ने रोमांस के लिए एक सिनेमाई बेंचमार्क कायम कर दिया है। इस सप्ताह की शुरुआत में गुनीत मोंगा ने सोशल मीडिया पर यह जाहिर करने के लिए कहा कि वह शाहरुख खान और उनकी सिग्नेचर रोमांटिक फिल्म से कितनी गहराई से जुड़ी हैं औरर उसने इन्हें बिगाड़ दिया है।

शादी का कार्ड भी DDLJ की तरह

सनी कपूर (Sunny Kapoor) के रूप में अपना जीवन साथी पाने के बाद, जिसके साथ वह कुछ महीनों से जुड़ी हुई हैं। उनकी शादी के इनविटेशन कार्ड को DDLJ की बारीकियों और एलिमेंट के साथ तैयार किया गया है। इनविटेशन में फ़ील्ड, ट्रेन जैसे एलिमेंट्स हैं और यह सारे फिल्म को खास बनाते हैं और साथ साथ ये गुनीत (Guneet Monga) की प्रेम कहानी को भी खास बनाते हैं।

DDLJ ने बिगाड़ी जिंदगी

इससे पहले एक नोट शेयर करते हुए गुनीत (Guneet Monga) ने बताया कि वह कैसे डीडीएलजे (DDLJ) की फैन रही हैं और राज और सिमरन की तरह एक पिक्चर परफेक्ट रोमांस चाहती थीं, उन्होंने लिखा, ‘डीडीएलजे ने मुझे बर्बाद कर दिया … 90 के दशक में बड़ी होने वाली हर लड़की की तरह, मैं भी अपने लिए लगातार तलाश में हूं। राज तब से जब मैं 18 साल की थी। मैं जिस किसी को भी डेट करती थी, मैं अपने दोस्तों के पास यह बताने के लिए भागती थी कि यह वही है, मुझे अपना साथी जीवन भर के लिए मिल गया। कुछ ने मुझे एक-दो बार प्यार भी किया लेकिन ज्यादातर ने अपनी आंखें मूंद लीं और कहना चाहते थे, गुनीत अपना समय लें। मैं कभी भी अपना समय नहीं लेना चाहती थी, मेरा जादू हमेशा के लिए पहले दिन से शुरू हो गया था। मैं पहले दिन से तैयार थी! हर कोई हमेशा मुझसे कहता था, सही समय पर सही इंसान मेरे जीवन में आएगा और इसने मुझे सबसे ज्यादा चिढ़ाया। पृथ्वी पर मेरा समय क्यों नहीं आया? अब तो चालीस साल हो गए, वास्तव में 39 लेकिन एक गोल फिगर बेहतर लगता है ना।’

ट्रेन छोड़ने की भी कोशिश

अपने ‘राज’ की उम्मीद में गुनीत ने उनकी ट्रेन छोड़ने की भी कोशिश की लेकिन जल्द ही सच्चाई उनके सामने आ गई। नोट में लिखा था, ‘रुको, क्या मैंने तुमसे कहा था, मैंने भी आखिरी यूरो ट्रेन को मिस करने की कोशिश की है, लेकिन वहां पे दरवाजे अपने आप बंद होते हैं और कोई भी तुम्हें अंदर खींचने के लिए अपना हाथ नहीं रखता है! हाथ कट जाएंगे। मेरी प्यारी गर्लफ्रेंड, क्या मैं आपको बता सकता हूं कि सही समय कब आता है और वह इंसान आपके जीवन में कब आता है, आप बस उसे जान जाते हैं। जब वह आपको दिखाता है कि आप उसके लिए कितना मायने रखते हैं। उस तरह का प्यार ही सब कुछ है।’