राफ़ेल मुद्दे पर कांग्रेस ने कहा, चौकीदार की चोरी रंगे हाथों पकड़ी गई, मोदी पर केस दर्ज किया जाना चाहिए

0

राफेल सौदे को लेकर कांग्रेस ने पीएम मोदी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। कांग्रेस ने कहा कि राफेल घोटाले में देश के ख़ज़ाने को हुए नुकसान की साज़िश का भंडाफ़ोड़ हुआ है। चौकीदार की चोरी रंगे हाथों पकड़ी गई है। मोदी के ख़िलाफ़ केस दर्ज किया जाना चाहिए। राफेल सौदा यूपीए सरकार के दौरान हुआ था।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कांफ्रेंस करते हुए कहा कि मोदी सरकार द्वारा ख़रीदे जा रहे 36 राफेल जहाज़ों की क़ीमत कांग्रेस द्वारा ख़रीदे जा रहे 126 राफेल जहाजों की कहीं से ज़्यादा है। उन्होंने कहा कि रक्षा सौदों में सबसे महंगी वस्तु (transfer of technology)हैं । इंडियन नेगोशिएटिंग टीम (INT) ने भी माना है कि कांग्रेस द्वारा ख़रीदे जा रहे 126 राफेल जहाजों में (transfer of technology) की लागत शामिल थी जबकि मोदी सरकार द्वारा ख़रीदे जा 36 राफेल विमानों में (transfer of technology) की लागत शामिल नहीं है। बावजूद इसके, 36 राफेल विमानों की क़ीमत ज़्यादा कैसे हो सकती है ?

सुरजेवाला कहा कि इंडियन नेगोशिएटिंग टीम (INT) के मुताबिक़, 36 राफेल विमानों की क़ीमत 63,450 करोड़ रूपये है न कि 59, 175 करोड़, जैसा कि मोदी सरकार द्वारा दावा किया जा रहा है।


रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट करते हुए लिखा कि मोदी जी ने देश व संसद को बरगलाया और देश के ख़ज़ाने को चूना लगाया। सुरजेवाला ने लिखा कि चौकीदार की चोरी, आखिर रंगे हाथों पकड़ी गई। राफेल घोटाले में देश के खजाने को हुए नुकसान की साजिश का हुआ भंडाफोड़ हुआ है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस घोटाले में सीधे ज़िम्मेदार है। उनके ख़िलाफ़ भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत मुकदमा दर्ज किया जाना चाहिए।