कांग्रेसी विधायक सिद्दू न्यामगौड़ की सड़क हादसे में हुई मौत

0

नई दिल्ली: कर्नाटक के कांग्रेसी विधायक सिद्दू न्यामगौड़ आज एक सड़क हादसे में हुई मौत. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सिद्दू न्यामगौड़ गोवा से बागलकोट स्थित अपने घर लौट रहे थे जिस दौरान उनकी कार तुलसीगिरी के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई. आपको बता दें कि यह घटना करीब चार बजे तुलसीगिरी के रास्ते पर जाते वक्त उनकी कार के सामने एक ट्रक आ गया था. ट्रक से बचने के दौरान कार असंतुलित हो गई और डिवाइर से टकरा गई. इस भीषण हादसे में पूर्व केंद्रीय मंत्री सिद्दू न्यामगौड़ की मौके पर ही मौत हो गई. नव निर्वाचित कांग्रेस विधायक सिद्दू न्यामागौडा करीब 67 साल के थे. यह एक वरिष्ट नेताओं में से एक थे, और वह कई बार राज्य में विधायक का चुनाव भी जीते है.

कुछ दिन पहले ही कर्नाटक विधानसभा चुनाव हुए थे, जिसमें कांग्रेस और जेडीएस की सरकार ने गठबंधन करके कर्नाटक चुनाव को अपने नाम किया है. सिद्दू बी न्‍यामा गौडा प्रसाद उन 78 कांग्रेस विधायकों में से एक थे, जिन्होंने कर्नाटक विधानसभा में जीत हासिल की थी. उन्होंने बागलकोट के जामखंडी से दोबारा जीत हासिल की थी. जानकारी के अनुसार, उन्होंने 12 मई को हुए चुनाव में बीजेपी उम्मीदवार श्रीकांत सुब्बाराव कुलकर्णी को 2,500 वोटों से हराया था.

कर्नाटक कांग्रेस ने ट्वीट में जताया दुख

कांग्रेसी विधायक सिद्दू न्यामगौड़ की मौत पर कर्नाटक कांग्रेस ने ट्वीट के जरिए अपना दुख जताया. वहीं उन्होंने ट्वीट के द्वारा ही श्रदांजलि भी दी. हमारे वरिष्ठ नेता और जामखंडी से विधायक श्री सिद्धू बी न्यामगौड़ा के निधन को लेकर हमें काफी दुख है. कांग्रेस पार्टी इस दुख की परिस्तिथि में न्यामगौड़ा के परिवार के साथ खड़ी है.

सीएम सिद्धारमैया ने भी ट्वीट पर दुख व्यक्त किया

आपको बता दें कि कर्नाटक के पूर्व सीएम सिद्धारमैया ने भी ट्वीट के माध्यम विधायक के निधन पर दुख जताया है. उन्होंने ट्वीट पर साझा करते हुए लिखा कि हमारे पार्टी विधायक सिद्दू बी न्‍यामा गौडा की कार हादसे में हुई अचानक मौत ने मुझे काफी झटका दिया है. इस दौरान उनने यह भी कहा कि सिद्दू बी न्‍यामा गौडा ने एक विधायक, एक सांसद और केंद्रीय मंत्री के रूप में कार्य किया. मेरे दोस्त को याद किया जाएगा’.

कांग्रेस विधायकों की संख्या हुई कम

बहरहाल, इस असामयिक मौत की वजह से कांग्रेस के विधायकों की संख्या कम होकर 77 हो गई है. बता दें कि एचडी कुमारस्वामी के इस्तीफा देने और अब सिद्धू की आकस्मिक मृत्यु के बाद कर्नाटक में कुल चार सीटें खाली हो गई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × 2 =