कांग्रेस नेता: ‘अमित शाह और नरेंद्र मोदी ख़ुद घुसपैठिये है’

0
अधीर रंजन चौधरी
अधीर रंजन चौधरी

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को दिल्ली में आया हुआ “घुसपैठिया” कहा। कांग्रेस नेता ने कहा कि पीएम मोदी और अमित शाह प्रवासी हैं क्योंकि गुजरात में उनके घर हैं लेकिन वे अब दिल्ली में रह रहे हैं।

लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा, “वे खुद प्रवासी हैं।”

हाल ही में असम में लागू किए गए राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) पर केंद्र सरकार पर हमला करते हुए अधीर रंजन चौधरी ने कहा, “भारत किसी की संपत्ति नहीं है”।

पत्रकारों से बात करते हुए अधीर रंजन चौधरी ने कहा, “हिंदुस्तान सब कुछ है, हिंदुस्तान के किसी की जगीर है क्या? सबका समान अधिकार है। अमित शाह जी, नरेंद्र मोदी जीआप खुद घुसपैठिये हैं।”

अधीर रंजन चौधरी का यह बयान गृहमंत्री अमित शाह के बयान के मद्देनजर आया जिसमे अमित शाह ने कहा था कि NRC को देशभर में लागू किया जाएगा।

कुछ दिनों पहले राज्यसभा को संबोधित करते हुए, अमित शाह ने कहा कि NRC को पूरे देश में लागू किया जाएगा और किसी भी धर्म के किसी व्यक्ति को इससे डरने की जरूरत नहीं है।

कांग्रेस नेता सैयद नासिर हुसैन के एक प्रश्न के जवाब में अमित शाह ने कहा, “NRC की निगरानी सुप्रीम कोर्ट द्वारा की जाती है। NRC प्रक्रिया के दौरान किसी भी धर्म को लक्ष्य को बनाकर या अलग नहीं किया गया है।”

कांग्रेस सांसद ने पूछा था कि क्या NRC छह गैर-मुस्लिम धर्मों के प्रवासियों को नागरिकता प्रदान करता है।

अमित शाह ने कहा कि NRC और द सिटिजनशिप अमेंडमेंट बिल 2016, जो 3 जून, 2019 को समाप्त हुआ, दो अलग-अलग मुद्दे हैं और दोनों को एक प्रिज्म के माध्यम से नहीं देखा जाना चाहिए।

गृह मंत्री ने कहा कि जिन लोगों के नाम NRC से गायब हैं, वे तहसील स्तर पर गठित न्यायाधिकरणों से संपर्क कर सकते हैं। अमित शाह ने कहा कि असम सरकार उन लोगों को वित्तीय मदद देगी जिनके पास याचिका दायर करने के लिए पैसे नहीं हैं।

यह भी पढ़ें: दिल्ली सरकार ने निर्भया कांड के दोषियों की दया याचिका को ख़ारिज करने की मांग की

असम में, NRC का उद्देश्य अवैध प्रवासियों की पहचान करना है जो राज्य में प्रवेश कर गए और 25 मार्च 1971 के बाद बस गए।