तो क्या चीन और भारत के बीच चलेगी बुलेट ट्रेन ?

0

जब से नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बने है तब से ही देश में बुलेट ट्रेन को लेकर हलचल काफी तेज है. पीएम मोदी खुद भी कई दफे भारत में बुलेट ट्रेन चलने के लिए प्रतिबद्ध नज़र आये है. इसी बीच चीन की तरफ से भारत को एक ऑफर आया है जिसमें चीन ने चाइना से लेकर भारत तक बुलेट ट्रेन चलने की बात रखी है. हालांकि देश में अभी बुलेट ट्रेन चलने में काफी समय है. अहमदाबाद से मुंबई के बीच बुलेट ट्रेन चलने में अभी कई साल लगेंगे. लेकिन इसी बीच चीन ने एसा ऑफर रख दिया है जो की पीएम मोदी को भा भी सकता है.

चाइना का प्रस्ताव: चीन से कोलकत्ता तक चल सकती है बुलेट ट्रेन

कोलकाता में चीन के कॉन्सुल जनरल मा झानवू ने कहा कि उनका देश म्यांमार, बांग्लादेश होते हुए कोलकाता तक एक मेट्रो सेवा शुरू करने पर विचार कर रहा है. एक कार्यक्रम में झानवू ने कहा, ‘भारत और चीन के संयुक्त प्रयास से दोनों शहरों के बीच एक हाईस्पीड रेल लिंक शुरू किया जा सकता है. यह वास्तव में शुरू हुआ तो इससे कुनमिंग से कोलकाता तक पहुंचने में महज कुछ घंटे ही लगेंगे.’

उन्होंने कहा कि इससे म्यांमार और बांग्लादेश को भी फायदा होगा. झानवू ने कहा, ‘इस रूट पर उद्योगों का क्लस्टर खड़ा किया जा सकता है. 2800 किमी लंबे इस प्रोजेक्ट से जुड़े सभी देशों की आर्थिक तरक्की की संभावनाओं को बढ़ाया जा सकता है. इससे बांग्लादेश-चीन-भारत-म्यांमार (BCIM) कॉरिडोर में व्यापार में तेजी लाई जा सकती है.

2022 तक भारत में चल सकती है बुलेट ट्रेन

गौरतलब है कि 508 किमी लंबा मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन कॉरिडोर साल 2022 से शुरू होने की उम्मीद है. इस पर चलने वाली गाड़ियों की स्पीड 350 किमी प्रति घंटे होगी और दोनों शहरों के बीच की दूरी महज 2 घंटे में पूरी कर ली जाएगी. अभी मुंबई से अहमदाबाद ट्रेन से जाने में 7 घंटे लगते हैं.

बता दे इस योजना पर सात हज़ार करोड़ रूपए की लागत आएगी. भारत जापान से 18 बुलेट ट्रेन खरीदेगा.