केंद्र सरकार ने जीएसटी को लेकर दिखाई सख्ती ।

0
केंद्र सरकार ने जीएसटी को लेकर दिखाई सख्ती ।

जीएसटी से हुए वस्तु और सेवाओं की कीमतों में हुए बदलाव के मद्देनजर केंद्र सरकार ने सभी राज्यों को उपभोक्ताओं के हितों के प्रति सचेत रहने के निर्देश दिए है । उपभोक्ता मंत्रालय ने कहा कि सभी राज्य यह सुनिश्चित करे कि जिन वस्तुओं कि कीमतें कर कम होने से घटी है, उसका फायदा उपभोक्ताओं तक पहुंचे। जीएसटी लागू होने से कुछ चीजों के दाम कम हुए है तो कुछ के दाम बढ़े है।
उपभोक्ता मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि साधारणतया दाम कम होने का लाभ उपभोक्ता को नहीं मिलता , जबकि उपभोक्ता से बढ़े हुए दाम फौरन वसूल कर लिए जाते है। इसलिए मंत्रालय ने सभी राज्यों से क्रियान्वयन एजेंसियों को सचेत करने को कहा है।

नई एमआरपी
मंत्रालय का कहना है कि जिन वस्तुओं के दामों में वृद्धि हुई है, उन वस्तुओं पर कंपनी नए दाम लिखकर बाजार में बेच सकती है । पर कोई कंपनी पैकेट पर नई एमआरपी नहीं लिखती है तो उसे पुरानी एमआरपी पर सामान बेचना होगा । मौजूदा कानून के मुताबिक एमआरपी से अधिक कीमत वसूलना अपराध है ।

उपभोक्ता सामान का बिल लें

अधिकारी ने कहा कि यदि किसी वस्तु पर दुकानदार ने नई एमआरपी खुद से लिख रखी होगी, इसके बावजूद भी उपभोक्ता को बिल लेना चाहिए। क्योंकि, दुकानदार कर बदलने से मूल्य में हुई वृद्धि से अधिक एमआरपी लिख सकता है । यदि उपभोक्ता के पास बिल है तो वह कार्यवाई कर सकता है ।

बाजार ने स्वागत किया
जीएसटी लागू होने के बाद सोमवार को पहली बार जब शेयर बाजार खुला तो उसने जोरदार तेज़ी दर्ज कर फैसले का स्वागत किया । बीएसए के सेंसेक्स 300 अंक चढ़कर 31,222 अंक बंद हुआ। जबकि निफ्टी 9615 अंक पर बंद हुआ ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eleven − 8 =