BJP का दफ्तर जलकर हुआ राख, TMC पर आरोप

बीजेपी के लिए मुश्किलें और ज्यादा बढ़ गई जब यह खबर सामने आई की कुछ लोगों ने पश्चिम बंगाल के आसनसोल में बीजेपी के दफ्तर में आग लगा दी है। बीजेपी ने इस घटना का आरोप टीएमसी पर लगाया है बीजेपी ने दावा किया है की इस करतूत के पीछे टीएमसी से जुड़े लोगों का हाथ है। आग लगने के कारण बीजेपी दफ्तर राख में तब्दील हो गया । हालांकि बीजेपी के इस आरोप को टीएमसी ने सरासर खारिज कर दिया है।

आग लगाने के तुरंत बाद पुलिस को इस घटना के बारे में जानकारी दी। लेकिन पुलिस घटना स्थल पर विलम से पहुंची। साथ ही बीजेपी ने यह भी आरोप लगाया है की टीएमसी कार्यकर्ता पहले भी दफ्तरों में आग लगाते रहे हैं लेकिन पुलिस ने उनके खिलाफ कोई भी कार्रवाई नहीं की। पुलिस को बीजेपी कार्यकर्ताओं की नाराजगी का सामना करना पड़ा।

बीजेपी नेता गोपाल रॉय के अनुसार उनके दफ्तर जलाए जा रहे हैं क्योंकि बीजेपी के लगातार बढ़ते प्रभाव से टीएमसी खुश नहीं है, जिस इलाके में आगा लगी वही कंबल वितरण का एक कार्यक्रम आयोजित था जिसमें बड़ी संख्या में लोग जुटे थे. इससे नाराज होकर टीएमसी कार्यकर्ताओं ने बीजेपी दफ्तर में आग लगा दी. हालांकि टीएमसी ने इन आरोपों को बेबुनियाद बताया है। पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें : AAP-कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल कई बड़े नेता, दिल्ली चुनाव में दलबदलुओं का दांव पड़ा उल्टा

टीएमसी नेता हरेराम तिवारी ने बीजेपी के आरोपों को खारिज करते हुए कहा,कि दफ्तर में आग लगने के पीछे बीजेपी ही जिम्मेदार है। टीएमसी नेता ने बीजेपी कार्यकर्ताओं पर आरोप लगाते हुए कहा कि वे दफ्तर में गैर-कानूनी काम को अंजाम देते हैं, यहां तक कि दफ्तर में शराब भी रखते हैं.पुलिस के जांच के बाद ही यह पता लग पायेगा की आखिर इस घटना के पीछे किसका हाथ है। फिलाल पुलिस की तफ्दीश इस सन्दर्भ में जारी है।